महाराष्ट्र सरकार की नई नीति मुंबई 24 घंटे पर अरबाज खान ने दी अपनी प्रतिक्रिया, इस सुरक्षा की बात को लेकर किया आगाह
महाराष्ट्र सरकार की नई नीति मुंबई 24 घंटे पर अरबाज खान ने दी अपनी प्रतिक्रिया, इस सुरक्षा की बात को लेकर किया आगाह
महाराष्ट्र सरकार की नई नीति मुंबई 24 घंटे पर अरबाज खान ने दी अपनी प्रतिक्रिया, इस सुरक्षा की बात को लेकर किया आगाह
महाराष्ट्र सरकार की नई नीति मुंबई 24 घंटे पर अरबाज खान ने दी अपनी प्रतिक्रिया, इस सुरक्षा की बात को लेकर किया आगाह

"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

महाराष्ट्र सरकार की नई नीति मुंबई 24 घंटे पर अरबाज खान ने दी अपनी प्रतिक्रिया, इस सुरक्षा की बात को लेकर किया आगाह

मुंबई : बॉलीवुड अभिनेता अरबाज खान ने महाराष्ट्र सरकार की नई नीति ‘मुंबई 24 घंटे’ का स्वागत करते हुए कहा कि यह एक अच्छी बात है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि संबंधित मंत्रालयों और एजेंसियों को नीति के कार्यान्वयन के बाद नागरिकों की सुरक्षा को ध्यान में रखने की आवश्यकता है। अरबाज
  

महाराष्ट्र सरकार की नई नीति मुंबई 24 घंटे पर अरबाज खान ने दी अपनी प्रतिक्रिया, इस सुरक्षा की बात को लेकर किया आगाह

मुंबई : बॉलीवुड अभिनेता अरबाज खान ने महाराष्ट्र सरकार की नई नीति ‘मुंबई 24 घंटे’ का स्वागत करते हुए कहा कि यह एक अच्छी बात है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि संबंधित मंत्रालयों और एजेंसियों को नीति के कार्यान्वयन के बाद नागरिकों की सुरक्षा को ध्यान में रखने की आवश्यकता है।

अरबाज खान ने मुंबई में सह-कलाकार प्रिया प्रकाश वॉरियर और अपनी गर्लफ्रेंड जॉर्जिया एंड्रियानी के साथ आगामी फिल्म ‘श्रीदेवी बंग्लो’ के एक प्रचार गीत की शूटिंग के दौरान मीडिया से बात की।

एक लंबे समय से प्रतीक्षित मुंबई की नाइटलाइफ नीति पिछले रविवार को एक सतर्क नोट पर लागू हुई, जो लोगों को खरीदारी करने, खाने-पीने और एक ऐसे शहर के इर्द-गिर्द घूमने का अवसर प्रदान करती है जो कि कभी नहीं सोता है।

22 जनवरी को महाराष्ट्र राज्य के मंत्रिमंडल द्वारा ‘मुंबई 24 घंटे’ की नीति को मंजूरी दे दी गई है, जिसके तहत गैर-आवासीय क्षेत्रों में स्थित मॉल और मिल परिसरों में 24 घंटे दुकानें और भोजनालय खुली रहेंगी।

इस पर अरबाज ने कहा, “मेरे ख्याल से यह एक अच्छी बात है क्योंकि अब हमें महसूस करना है कि दुनिया भर में ऐसी जगहें हैं जो खुली हैं। अब सिर्फ एक बात को ध्यान में रखने की आवश्यकता है और वह ये कि इन स्थानों में देर रात को नागरिकों को सुरक्षा मुहैया कराना। हमें खुद से यह पूछना होगा कि क्या हम इसके लिए तैयार है?

अन्यथा यह एक बेहतर चीज है क्योंकि हम हमेशा यह कहते हैं कि मुंबई एक ऐसा शहर है जो कभी नहीं सोता है। अब मॉल व कुछ जगहें खुली रहेंगी और ये आवासीय नहीं बल्कि गैर-आवासीय क्षेत्रों में होंगे।”

Share this story