"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

घाटी में एनआईए की छापेमारी जारी, निलंबित डिप्टी एसपी दविंदर सिंह के घर की फिर तलाशी ली गई

श्रीनगर : एनआईए और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने सोमवार को दक्षिण कश्मीर के शोपियां में आतंकियों फारूक अहमद ठोकर और सक्रिय हिजबुल आतंकवादी उमर धोबी के ओवर ग्राउंड वर्कर (ओजीडब्ल्यू) के आवासों की तलाशी ली। सूत्रों ने बताया कि निलंबित डिप्टी एसपी दविंदर सिंह के पैतृक घर पुलवामा जिले के त्राल में भी तलाशी ली जा
  

घाटी में एनआईए की छापेमारी जारी, निलंबित डिप्टी एसपी दविंदर सिंह के घर की फिर तलाशी ली गई

श्रीनगर : एनआईए और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने सोमवार को दक्षिण कश्मीर के शोपियां में आतंकियों फारूक अहमद ठोकर और सक्रिय हिजबुल आतंकवादी उमर धोबी के ओवर ग्राउंड वर्कर (ओजीडब्ल्यू) के आवासों की तलाशी ली।

सूत्रों ने बताया कि निलंबित डिप्टी एसपी दविंदर सिंह के पैतृक घर पुलवामा जिले के त्राल में भी तलाशी ली जा रही है।

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने मीडिया के उन रपटों का खंडन किया है, जिसमें कहा गया है कि शोपियां में आईपीएस अधिकारी के आवास पर छापे मारे गए।

शोपियां के एसएसपी संदीप चौधरी ने बताया, “शोपियां में आईपीएस अधिकारी के आवास पर एनआईए द्वारा तलाशी लेने की खबरें गलत हैं।”

रविवार को, राष्ट्रीय जांच एजेंसी और राज्य पुलिस ने डीएसपी दविंदर सिंह, हिज्बुल के आतंकवादी नवीद बाबू और रफी अहमद और एक लॉ स्कूल ड्रापआउट इरफान अहमद के ठिकानों पर नए सिरे से छापे मारे।

शनिवार को एनआईए की 20 सदस्यीय टीम दविंदर सिंह के बारे में और तथ्य जुटाने के लिए कश्मीर पहुंची, जिसे जम्मू-कश्मीर पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

सूत्रों ने बताया कि डीआईजी रैंक के अधिकारी के नेतृत्व में टीम अनंतनाग गई और पुलिस अधिकारियों के साथ उसने बैठक की।

एजेंसी द्वारा सिंह का ट्रांजिट रिमांड हासिल करने के बाद एनआईए के अधिकारी फिलहाल जम्मू में सिंह से पूछताछ कर रहे हैं।

पिछले सप्ताह डीजी एनआईए, वाई.सी. मोदी ने इस मामले की जांच की समीक्षा की, जिसने सुरक्षा प्रतिष्ठान को हिला कर रख दिया है।

जम्मू-कश्मीर पुलिस द्वारा प्रारंभिक जांच के बाद मामला एनआईए को सौंप दिया गया था।

Share this story