इन जगहों को दबाने से बढ़ती है महिलाओं में कामेच्छा
इन जगहों को दबाने से बढ़ती है महिलाओं में कामेच्छा
इन जगहों को दबाने से बढ़ती है महिलाओं में कामेच्छा
इन जगहों को दबाने से बढ़ती है महिलाओं में कामेच्छा

"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

इन जगहों को दबाने से बढ़ती है महिलाओं में कामेच्छा

टीम डिजिटल : कई बार ऐसा होता है कि महिलाओं की सेक्स की इच्छा नहीं होती. ऐसे में अगर आपको सेक्स करना हो तो आपको पार्टनर को काफी मनाना पड़ता है. यानी महिलाओं की कामेच्छा बढ़ाने के लिए आपको कई जतन करने पड़ते हैं. इसमें कोई शक नहीं कि महिलाएं सेक्स इच्छा ज्यादा रखती हैं
  

इन जगहों को दबाने से बढ़ती है महिलाओं में कामेच्छा

टीम डिजिटल : कई बार ऐसा होता है कि महिलाओं की सेक्स की इच्छा नहीं होती. ऐसे में अगर आपको सेक्स करना हो तो आपको पार्टनर को काफी मनाना पड़ता है. यानी महिलाओं की कामेच्छा बढ़ाने के लिए आपको कई जतन करने पड़ते हैं.

इसमें कोई शक नहीं कि महिलाएं सेक्स इच्छा ज्यादा रखती हैं लेकिन महिलाओं में कामेच्छा नही हो तो कैसे बढ़ाए ये आप जान सकते हैं. कामेच्छा यदि किसी भी व्यक्ति में सामान्य लेवल से कम होती है तो जीवन में उसके लिए कई परेशानियां पैदा हो जाती हैं, लिबिडो नामक हार्मोन कामेच्छा बढ़ाने वाला ही एक हार्मोन होता हैं और मानव के अंदर में इसकी कमी होने से ही कामेच्छा की कमी हो जाती है.

एक्यूप्रेशर थेरैपी के दो ऐसे प्वाइंट बता रहें हैं जिसको पुश करने यानी दबाने से आप अपने लिबिडो हार्मोन की मात्रा को बढ़ा सकते हैं और इस तरह से आप अपनी कामेच्छा की कमी को दूर कर सकते हैं.

महिलाओं की शिकायत यह रहती है कि रजोनिवृत्ति के बाद उनकी कामेच्छा कम हो जाती है ऐसा सिर्फ वजाइना के सूखेपन के कारण होता है, जिसके पीछे लिबिडो की कमी ही होती है.

स्टमक प्वाइंट : पेट में नाभि के स्थान पर अपने हाथ की अंगुलियों से 4 से 5 मिनट तक थोड़ा पुश करते रहें और इसी प्रकार करते हुए नाभि से 2 अंगुली नीचे के स्थान पर जाए.

किडनी प्वाइंट : लिबिडो हार्मोन के लिए भी यह किडनी प्वाइंट बहुत ज्यादा हेल्पफुल रहता है. इस एंगल पॉइंट पर आप हल्के से अपनी अंगुलियों के पोरो से पुश करें.

Share this story