"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

दिल्ली चुनाव में भाजपा व आप के बीच होगा कड़ा मुकाबला : सर्वे

नई दिल्ली : दिल्ली में विधानसभा चुनावों के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मजबूत बढ़त बनाती नजर आ रही है। कुछ समय पहले तक जहां सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) एकतरफा चुनाव जीतती प्रतीत हो रही थी, वहीं अब भाजपा की बढ़त ने उसका ग्राफ नीचे ला दिया है। आईएएनएस-सीवोटर दिल्ली ट्रैकर पोल सर्वेक्षण के
  

दिल्ली चुनाव में भाजपा व आप के बीच होगा कड़ा मुकाबला : सर्वे

नई दिल्ली : दिल्ली में विधानसभा चुनावों के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मजबूत बढ़त बनाती नजर आ रही है। कुछ समय पहले तक जहां सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) एकतरफा चुनाव जीतती प्रतीत हो रही थी, वहीं अब भाजपा की बढ़त ने उसका ग्राफ नीचे ला दिया है।

आईएएनएस-सीवोटर दिल्ली ट्रैकर पोल सर्वेक्षण के ताजा आंकड़ों से इसका पता चला है। सर्वेक्षण के मुताबिक, जहां छह जनवरी को 53.2 फीसदी दिल्ली की जनता आप की सरकार बनने का दावा कर रही थी, वहीं अब तीन फरवरी को 45.1 फीसदी लोग आप की सरकार बनने की संभावना जता रहे हैं।

इस मामले में आप फिलहाल भाजपा पर केवल आठ फीसदी की बढ़त बनाए हुए है। इस तरह से इस विधानसभा चुनाव में दोनों पार्टियों के बीच कड़ी टक्कर तय मानी जा रही है।

हर गुजरते सप्ताह के साथ राष्ट्रीय राजधानी के लोग भाजपा पर अधिक भरोसा जताने लगे हैं। दिल्ली ट्रैकर से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार, तीन फरवरी को भाजपा की मतदाता अनुमोदन रेटिंग 37 फीसदी तक पहुंच चुकी है। 27 जनवरी से तीन फरवरी तक भाजपा पर भरोसा जताने वाले 5.8 फीसदी लोगों की बढ़ोतरी देखी गई है।

इसके विपरीत सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी पर भरोसा जताने वाले लोग 27 जनवरी से तीन फरवरी तक 5.5 फीसदी घटे हैं।

सर्वेक्षण में लोगों से सवाल पूछा गया था, “अगर आज विधानसभा चुनाव हो रहे हों, तो आप किसे मतदान करेंगे?” इसके जवाब से ही सर्वे के निष्कर्ष निकाले गए हैं।

इस मामले में कांग्रेस तीसरे स्थान पर रही है और पिछले दिनों की अपेक्षा वर्तमान में पार्टी की स्थिति और भी खराब दिख रही है। 27 जनवरी को किए सर्वे में जहां 5.3 फीसदी मतदाताओं ने कांग्रेस की सरकार बनने को लेकर विश्वास जताया था, वहीं तीन फरवरी को इसमें 3.7 फीसदी तक गिरावट देखने को मिली है।

27 जनवरी को 11.3 फीसदी मतदाता सरकार बनने को लेकर स्पष्ट नहीं थे। वहीं तीन फरवरी को इनकी संख्या बढ़कर 12.1 फीसदी तक पहुंच गई।

तीन फरवरी को किए गए सर्वेक्षण में दिल्ली के शहरी, ग्रामीण और अर्ध-शहरी इलाकों के कुल 2,899 मतदाताओं से बातचीत की गई। यह सर्वेक्षण उनकी प्रतिक्रियाओं पर आधारित हैं।

ताजा सर्वेक्षण के निष्कर्षो में पिछले चार हफ्तों में भाजपा की मतदाता स्वीकृति में लगातार वृद्धि का संकेत मिला है।

छह जनवरी को विधानसभा चुनावों की घोषणा के बाद भाजपा पिछले चार सप्ताह से ट्रैकर सर्वेक्षण पर लगातार बढ़त बना रही है। चुनावी घोषणआ के समय हुए सर्वेक्षण में आप को कुल 53.3 फीसदी वोट मिलने की उम्मीद जताई गई थी और राज्य की कुल 70 में से 59 सीटें जीतने की संभावना जताई गई थी। जबकि भाजपा को 25.9 प्रतिशत वोट और महज आठ सीटें जीतने का अनुमान था।

दिल्ली विधानसभा की 70 सीटों पर आठ फरवरी को चुनाव होंगे और 11 फरवरी को नतीजे घोषित किए जाएंगे।

Share this story