कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी दलों ने लोकसभा में सीएए को वापस लेने की मांग को लेकर किया हंगामा
कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी दलों ने लोकसभा में सीएए को वापस लेने की मांग को लेकर किया हंगामा
कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी दलों ने लोकसभा में सीएए को वापस लेने की मांग को लेकर किया हंगामा
कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी दलों ने लोकसभा में सीएए को वापस लेने की मांग को लेकर किया हंगामा

"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी दलों ने लोकसभा में सीएए को वापस लेने की मांग को लेकर किया हंगामा

नई दिल्ली : कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी दलों ने आज लोकसभा में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को वापस लेने की मांग को लेकर हंगामा किया। इसके साथ ही विपक्ष ने कानून के खिलाफ पूरे देश में हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जवाब की मांग की। सदन की
  

कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी दलों ने लोकसभा में सीएए को वापस लेने की मांग को लेकर किया हंगामा

नई दिल्ली : कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी दलों ने आज लोकसभा में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को वापस लेने की मांग को लेकर हंगामा किया। इसके साथ ही विपक्ष ने कानून के खिलाफ पूरे देश में हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जवाब की मांग की।

सदन की बैठक शुरू होने के साथ ही इस मुद्दे पर हंगामा शुरू हो गया। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने इस मुद्दे को उठाया, लेकिन लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने उन्हें बोलने की अनुमति नहीं दी और प्रश्नकाल शुरू कर दिया।

इसके बाद विभिन्न विपक्षी दलों के सांसद अध्यक्ष के आसन के पास पहुंच गए और लोकतंत्र बचाओ, संविधान बचाओ, प्रधानमंत्री जवाब दो, भड़काऊ भाषण बंद करो और सीएए वापस लो के नारे लगाने लगे।

विपक्ष ने केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर द्वारा दिए गए बयान को भी उठाया, जिसमें उन्होंने गद्दारों को गोली मारने की बात कही थी। इसके बाद निर्वाचन आयोग ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में उन्हें प्रचार करने से रोक दिया था।

हंगामे के बीच बिड़ला ने प्रश्नकाल जारी रखा। बिड़ला ने सदस्यों से अपनी सीटों पर जाने का अनुरोध किया, और संसद में नारेबाजी करने के लिए सदस्यों की निंदा की।

Share this story