"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

अमेरिकी शांति योजना को फिलिस्तीन ने ‘दुश्मनी का ऐलान’ बताया

रामल्ला : मध्य पूर्व के लिए अमेरिका की शांति योजना को एक बार फिर खारिज करते हुए फिलिस्तीन ने इसे फिलिस्तीनियों के प्रति ‘दुश्मनी का ऐलान’ बताया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने बताया, फिलिस्तनी लिबरेशन ऑर्गनाइजेशन के पब्लिक डिप्लोमेसी एंड पॉलिसी डिपार्टमेंट द्वारा रविवार को जारी एक पोजीशन पेपर के अनुसार, “यह योजना नियम आधारित
  

अमेरिकी शांति योजना को फिलिस्तीन ने ‘दुश्मनी का ऐलान’ बताया

रामल्ला : मध्य पूर्व के लिए अमेरिका की शांति योजना को एक बार फिर खारिज करते हुए फिलिस्तीन ने इसे फिलिस्तीनियों के प्रति ‘दुश्मनी का ऐलान’ बताया है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने बताया, फिलिस्तनी लिबरेशन ऑर्गनाइजेशन के पब्लिक डिप्लोमेसी एंड पॉलिसी डिपार्टमेंट द्वारा रविवार को जारी एक पोजीशन पेपर के अनुसार, “यह योजना नियम आधारित अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था और अंतर्राष्ट्रीय कानून की आधारशिला के लिए गंभीर खतरा है।”

इसके अनुसार, प्रस्तावित योजना इजरायल को तत्काल पुरस्कार देती है और फिलिस्तीनियों को कोई संप्रभुता नहीं मिलती है।

बयान के अनुसार, “अमेरिकी योजना फिलिस्तीनी समुदायों की संप्रभुता और व्यवहार्यता छीनती है। इसका सीमा, वायुक्षेत्र, समुद्री सीमा या प्राकृतिक संसाधनों पर कोई नियंत्रण नहीं है।”

पेपर के अनुसार, ‘फिलिस्तीन संयुक्त राष्ट्र के संकल्पों तथा अरब शांति उपक्रम से मेल खाने वाले अंतर्राष्ट्रीय कानून के आधार पर संरचनात्मक और सकारात्मक राजनीतिक प्रयास में शामिल होने के लिए तैयार है।’ और फिलिस्तीनी नेतृत्व इसकी वास्तविक शांति प्राप्त करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के साथ काम करने के लिए तैयार है।

Share this story