अगर आपके भी चेहरे पर इस जगह है तिल तो समझ जाएगी सफलता चूमेगी हर पल कदम

शरीर के अलग–अलग हिस्सों पर मौजूद तिल के मायने भी अलग–अलग होते हैं। कुछ तिल शुभ होते हैं तो कुछ अशुभ। लेकिन ध्यान रहे कि तिल का निशान बहुत छोटा नहीं होना चाहिए। यदि तिल बड़ा हो तो उसका प्रभाव होता है अन्यथा नहीं।
अगर आपके भी चेहरे पर इस जगह है तिल तो समझ जाएगी सफलता चूमेगी हर पल कदम

हर किसी के शरीर पर कहीं न कहीं तिल जरूर होता है। शायद ही कोई व्यक्ति होगा जिसके शरीर पर यह न हो। मोलियोसोफी के अनुसारव्यक्ति के शरीर पर मौजूद तिलों का बहुत महत्व होता है। इन तिलों से व्यक्ति के भविष्य के बारे में बहुत कुछ पता लगाया जा सकता है।

शरीर के अलग–अलग हिस्सों पर मौजूद तिल के मायने भी अलग–अलग होते हैं। कुछ तिल शुभ होते हैं तो कुछ अशुभ। लेकिन ध्यान रहे कि तिल कानिशान बहुत छोटा नहीं होना चाहिए। यदि तिल बड़ा हो तो उसका प्रभाव होता है अन्यथा नहीं।

तो आइए आज जानते हैं शरीर पर मौजूद तिलों के बारे में :

गाल पर तिल :

यदि किसी के दाहिने गाल पर तिल हो तो ऐसा व्यक्ति तर्कवादी होता है। वे धन कमाने में भी अग्रणी होते हैं।

माथे पर तिल :

माथे के बीच में तिल का मतलब है कि व्यक्ति शांत, बुद्धिमान, मेहनती और दिल का शुद्ध होता है। इसके अलावा, माथे के दाहिनीओर तिल होने का मतलब है कि व्यक्ति धनवान है।

नाक पर तिल :

समुद्रशास्त्र में बताया गया है कि अगर किसी की नाक के दाहिने हिस्से में तिल हो तो वह व्यक्ति कम मेहनत से ही धनवान बनताहै।

कान पर तिल :

यदि किसी व्यक्ति के कान पर तिल होता है, तो उसका जीवन भौतिक सुखों से भरा होता है। वहीं अगर कान के ठीक ऊपर तिलहो तो जातक बुद्धिमान होता है।

गर्दन पर तिल :

ऐसा माना जाता है कि अगर किसी व्यक्ति की गर्दन के ठीक सामने तिल होता है, तो वह व्यक्ति बहुत भाग्यशाली और कला मेंकुशल होता है।

पीठ पर तिल :

रीढ़ की हड्डी के आसपास यदि किसी की पीठ पर तिल हो तो व्यक्ति को यश और कीर्ति की प्राप्ति होती है। वहीं अगर किसीव्यक्ति के कंधे पर तिल है तो इसका मतलब है कि व्यक्ति चुनौतियों का सामना साहस के साथ करता है।

Share this story

Around The Web