वास्तु टिप्स: घर की इस दिशा में मिट्टी का घड़ा या जग रखें, यह हमेशा खजाना रहेगा

आपको बता दें कि मिट्टी के घड़े का पानी पीने से व्यक्ति कई बीमारियों से दूर रहता है।
वास्तु टिप्स: घर की इस दिशा में मिट्टी का घड़ा या जग रखें, यह हमेशा खजाना रहेगा

गर्मी के मौसम में ठंडा पानी हर कोई पीना चाहता है. ऐसे में हर घर में फ्रिज का प्रचलन है। ऐसे में किसी भी घर में मिट्टी के बर्तन या जग देखना बहुत मुश्किल होता है लेकिन आपको बता दें कि मिट्टी के घड़े का पानी पीने से व्यक्ति कई बीमारियों से दूर रहता है।

वहीं वास्तु के अनुसार शनि, मंगल, बुध, चन्द्रमा बली होंगे और धन-धान्य की प्राप्ति होगी। जानिए, वास्तु के अनुसार गुड़ या बर्तन को सही दिशा देते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

मटकी :

वास्तु शास्त्र के अनुसार उत्तर दिशा में मिट्टी का घड़ा या जग रखना चाहिए। क्योंकि इस दिशा में भगवान कुबेर के साथ-साथ वरुण देव का निर्देशन भी माना जाता है।

इसलिए इस दिशा में रहने से दोनों देवताओं की कृपा मिलती है और कभी भी धन की कमी नहीं होती है।

जार या जग को ऐसे ही रखें :

वास्तु के अनुसार जब आप कोई जग या जग खरीदें तो उसे अच्छी तरह से साफ कर उसमें पानी भर दें और यह पानी पहले किसी लड़की को दें। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से घर में सुख-समृद्धि आती है।

खाली मत छोड़ो :

वास्तु के अनुसार मिट्टी के बर्तन या जग को कभी भी खाली नहीं छोड़ना चाहिए इसे हमेशा पानी से भरना चाहिए।

मिट्टी का घड़ा बुध और चंद्रमा की स्थिति को ठीक करता है। ऐसे में मटके में पानी भरने से आपकी कुंडली के दोनों ग्रह मजबूत होंगे साथ ही आर्थिक लाभ भी होगा।

इसे रोजाना करें :

वास्तु के अनुसार यदि आप नौकरी में उन्नति के साथ-साथ हर प्रयास में सफलता चाहते हैं तो रोजाना मिट्टी के बर्तन के पास दीपक और कपूर जलाएं।

मिट्टी के घड़े में पानी पीने के फायदे :

वास्तु के अनुसार मिट्टी के घड़े या जग का पानी पीने से बुध के साथ-साथ चंद्र ग्रह को भी बल मिलता है। साथ ही शनि की स्थिति को ठीक करने के लिए मिट्टी के बर्तन में पानी भरकर किसी पीपल के पेड़ के नीचे रख दें।

इससे सभी समस्याओं से निजात मिल जाएगी। साथ ही मंगल को मजबूत करने के लिए पीने योग्य पानी पिएं।

Share this story

Around The Web