घाघर नहर का पानी टेल तक न पहुंचने से किसानों में आक्रोश

घाघर नहर का पानी टेल तक न पहुंचने से किसानों में आक्रोश


मीरजापुर, 10 मई (हि.स.)। गर्मी के दिनों में पानी की आपूर्ति के लिए खोली गई घाघर नहर का पानी टेल तक न पहुंचने से किसानों में आक्रोश है। किसान नेताओं ने कैनाल विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाया और पानी टेल तक न पहुंचने पर आंदोलन की चेतावनी दी।

किसान नेता राम नगीना सिंह पटेल ने कहा कि नहर को खुले 6 दिन हो गए पर पानी पटेहरा तक भी नहीं पहुंचा पाया। इस ब्लाक के दर्जनों गांव अमोई, पुरवा, करौंदा, मलुवा, पटेहरा, कुहुकी, खनवरमझारी सहित कई गांव में पेयजल की विकट स्थिति बनी हुई है। कहा कि विभाग के लोग इस बात पर ध्यान नहीं दे पा रहे हैं कि पटेहरा ब्लाक में पानी कैसे पहुंचेगा और वहां के किसानों और आम जनमानस को कैसे राहत पहुंचेगी। उनका मकसद केवल यह है कि नहर की तलहटी में पानी को दौड़ाया जाए। उन्होंने कहा कि यदि नहर का पानी पटेहरा ब्लाक के सभी माइनरों के जरिए सप्लाई की जाए तो पेयजल की समस्या समाप्त हो जाएगी। इससे इंसानों के साथ ही जानवरों को भी प्यास बुझाने में आसानी होगी। इसके लिए विभाग को ऊपर के सभी माइनरों को बंद कराना चाहिए पर ऐसा नहीं हो रहा है।

किसान नेता ने कहा कि यदि पानी जल्द पटेहरा तेल तक नहीं पहुंचा तो किसान आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे।

इस संबंध में एमसीडी के अधिशासी अभियंता वैभव सिंह ने बताया कि ऊपर की सभी माइनरों को बंद करा कर पानी आगे बढ़ाया जा रहा है। जल्द ही पानी टेल तक पहुंच जाएगा।

हिन्दुस्थान समाचार/गिरजा शंकर

Share this story

Around The Web