इंदौरः नाबालिग बेटी की गला घोटकर हत्या

इंदौरः नाबालिग बेटी की गला घोटकर हत्या


- दरिंदा पिता पहले कर चुका है दुष्कर्म, पांच माह जेल में रहकर आया था

इंदौर, 10 मई (हि.स.)। जिले के शिप्रा थाना क्षेत्र में एक पिता की दरिंदगी की मामला सामने आया है, जिसने अपनी ही 16 साल की नाबालिग बेटी को गला घोटकर मौत के घाट उतार दिया और भाग निकला। वह पहले बेटी से दुष्कर्म कर चुका है और पांच माह जेल में रहकर भी आया था। सोमवार देर रात वह बच्चों को घुमाने ले गया और बाद में दो बच्चों को बहाने से घर पहुंचाकर बेटी को मार डाला। माना जा रहा है कि उसने बेटी से फिर दुष्कर्म करने की कोशिश की थी।

घटना शहर के मांगलिया इलाके की है। इस इलाके में रहने वाली किशोरी को सोमवार रात उसके परिजन इलाज के लिए एमवाय अस्पताल लेकर आए थे, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस के अनुसार किशोरी की उसकी पिता ने ही हत्या की है। आरोपित के तीन बच्चे हैं। एक बच्चे की उम्र 12 और दूसरे की 14 साल है। किशोरी की परिवार ने मंगनी कर दी थी। आरोपित सोमवार को उसे और दोनों बच्चों को बाइक पर कहीं पर लेकर गया। लौटते समय घर से कुछ ही दूरी पर गाड़ी रोक ली और बेटी के साथ नीचे उतर गया। इसके बाद यह कहकर दोनों बेटों को घर रवाना कर दिया कि वह बेटी के साथ पैदल घर आ जाएगा।

काफी देर तक दोनों नहीं लौटे तो महिला ने पति को फोन लगाया, लेकिन उसका फोन बंद था। उसने अपने भाई को सारी बात बताई। परिजन उन दोनों को खोजने के लिए निकले। बच्चों द्वारा बताए गए घटनास्थल के पास एक खेत में बच्ची गंभीर रूप से घायल अवस्था में मिल गई। उसकी सांसें चल रही थीं। परिजन किशोरी को लेकर अस्पताल पहुंचे, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। पुलिस आरोपित की तलाश कर रही है।

बताया गया है कि आरोपित इससे पहले 2021 में अपनी इसी बेटी के साथ बलात्कार कर चुका है, तब इसके खिलाफ लसूडिय़ा थाने में शिकायत की गई थी। आरोपित करीब पांच माह तक जेल में भी रहा था। वह जेल से कैसे बाहर आया, उसकी जमानत किसने कराई, पुलिस इसका भी पता लगा रही है।

हिन्दुस्थान समाचार/घनश्याम डोंगरे

Share this story

Around The Web