पंजाब : निहंगों और पुलिस के बीच फायरिंग, डीएसपी समेत दस घायल; एक होमगार्ड की मौत

सुल्तानपुर लोधी के गुरुद्वारा श्री अकाल बुंगा पर काबिज होने के बाद बुधवार को बूसोवाल रोड पर डेरा पीर गेब पर कब्जा करते 10 निहंग सिंहों को सुल्तानपुर लोधी की पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इनमें 2020 में हुई इसी तरह की झड़प में दर्ज हुए कत्ल केस में वांछित आरोपी भी शामिल हैं।
पंजाब : निहंगों और पुलिस के बीच फायरिंग, डीएसपी समेत दस घायल; एक होमगार्ड की मौत
न्यूज डेस्क, दून हॉराइज़न, सुल्तानपुर लोधी (पंजाब)

कपूरथला के सुल्तानपुर लोधी के गुरुद्वारा अकाल बुंगा में गुरुवार सुबह पुलिस और निहंग सिंहों के बीच ताबड़तोड़ फायरिंग हुई। फायरिंग में पीसीआर में तैनात एक होमगार्ड जवान जसपाल सिंह की मौत हो गई। वहीं डीएसपी भुलत्थ समेत दस पुलिसवाले घायल हो गए। वहीं दो पुलिसकर्मियों के हाथ कट गए हैं। दोनों की सर्जरी जालंधर के अस्पताल में चल रही है। 

सभी घायलों को सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। संत बलबीर सिंह सीचेवाल घायलों का हालचाल जानने अस्पताल पहुंचे। सिविल अस्पताल सुल्तानपुर लोधी में भर्ती जख्मियों की पहचान डीएसपी भुलत्थ भारत भूषण सैनी, एएसआई सुखदेव सिंह, कांस्टेबल बबलप्रीत सिंह, एएसआई अशोक कुमार, एएसआई गुरमीत सिंह, सुरिंदर सिंह, अमनदीप सिंह, हरभजन सिंह, रमनदीप सिंह और हरजिंदर सिंह के रूप में हुई है तीन घायल पुलिस कर्मियों गुरमीत सिंह, सुखदेव सिंह और अशोक कुमार को सुलतानपुर लोधी सिविल अस्पताल से कपूरथला के सिविल अस्पताल में शिफ्ट किया गया।

वहीं मृतक की पहचान जसपाल सिंह निवासी गांव मनियाला के तौर पर हुई है।

धारा 145 लागू

इसके बाद एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर गुरविंदर सिंह ने बैठक ली। तीन घंटे की बैठक के बाद गुरुद्वारा साहिब में धारा 145 लागू कर दी गई है। फिलहाल गुरुद्वारा साहिब जाने के लिए सभी रास्ते बंद कर दिए गए हैं। आम जनता के भी उस तरफ जाने पर पाबंदी लगाई गई है।

गुरुद्वारा साहिब के अंदर घायल तीन निहंगों का उपचार डॉक्टर निरवेर सिंह की टीम ने किया। गुरुद्वारा साहब से तीन हथियार भी रिकवर हुए हैं। फिलहाल गुरुद्वारा साहिब का कब्जा प्रशासन ने अपने हाथ में ले लिया है। 

सीएम ने दिया एक करोड़ मदद देने का एलान

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने सोशल मीडिया पर सुल्तानपुर लोधी की घटना के दौरान पंजाब पुलिस के होमगार्ड जसपाल सिंह की मौत पर परिवार से गहरा दुख व हमदर्दी प्रकट की है। सीएम ने कहा कि पुलिस जवान ने अपना फर्ज निभाया।

सरकार की ओर से आर्थिक मदद के तौर पर एक करोड़ रुपये परिवार को दिए जाएंगे। बाकी के एक करोड़ रुपये बीमा अधीन एचडीएफसीबैंक की तरफ से दिए जाएंगे। भविष्य में परिवार की हर तरह से मदद के लिए सरकार वचनबद्ध है। जसपाल सिंह की बहादुरी को दिल से सलाम।

छोड़े थे आंसू गैस के गोले

इससे पहले जब माहौल बिगड़ा तो पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए आंसू गैस के गोले भी छोड़े। डीसी कपूरथला कैप्टन करनैल सिंह, आईजी जालंधर रेंज एस. भूपति समेत आला अधिकारी सुल्तानपुर लोधी पहुंच गए हैं और इस  स्थिति से कैसे निपटा जाए, इसे लेकर गुरुद्वारा बेर साहिब में मीटिंग की जा रही है।

बुधवार से ही पुलिस वाटर कैनन लेकर गुरुद्वारा साहिब में दाखिल होने के लिए प्रयासरत थी।

सुल्तानपुर लोधी के गुरुद्वारा श्री अकाल बुंगा पर काबिज होने के बाद बुधवार को बूसोवाल रोड पर डेरा पीर गेब पर कब्जा करते 10 निहंग सिंहों को सुल्तानपुर लोधी की पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इनमें 2020 में हुई इसी तरह की झड़प में दर्ज हुए कत्ल केस में वांछित आरोपी भी शामिल हैं। इससे पहले मंगलवार को भी झड़प हुई थी जिस को लेकर थाना सुल्तानपुर लोधी ने केस दर्ज किया गया था। 

Share this story