वाराणसी : आने वाले दिनों में नमो घाट पर बैंड बाजा संग आएगी बारात, करा पाएंगे अब सामूहिक आयोजन

सैलानियों के लिए पसंदीदा जगह बन चुके नमो घाट के 1.6 एकड़ भूमि पर बहुउद्देशीय प्लेटफार्म पर सामाजिक आयोजन भी कराए जा सकते हैं। 
वाराणसी : आने वाले दिनों में नमो घाट पर बैंड बाजा संग आएगी बारात, करा पाएंगे अब सामूहिक आयोजन 
न्यूज डेस्क, दून हॉराइज़न, वाराणसी (उत्तर प्रदेश) 

जल, थल और नभ से जुड़े नमो घाट पर आने वाले दिनों में बैंड बाजा संग बरात भी आएगी। नवनिर्मित नमो घाट को शादी समारोह के साथ ही ओपन सेमिनार सहित अन्य आयोजनों के लिए ओपन एयर थियेटर के रुप में उपयोग करने की योजना है।

फिलहाल कुछ आयोजनों के लिए घाट की बुकिंग भी शुरू कर दी गई है। स्कल्पचर के सामने बने स्टेज और स्टेयर सहित सामने की जगह आयोजन के लिए दी जा रही हैं।

सैलानियों के लिए पसंदीदा जगह बन चुके नमो घाट के 1.6 एकड़ भूमि पर बहुउद्देशीय प्लेटफार्म पर सामाजिक आयोजन भी कराए जा सकते हैं। स्मार्ट सिटी ने घाट के कुछ हिस्से पर शुल्क निर्धारित करते हुए आयोजन कराने की मंजूरी दी है।

इसमें सेमिनार, संवाद सहित अन्य सामूहिक आयोजनों के लिए समय के स्लॉट के अनुसार किराया तय किया गया है। इसके साथ ही अब यहां शादी समारोह कराए जाने के प्रस्ताव पर विचार शुरू किया गया है। इसके लिए शुल्क तय करने की प्रक्रिया भी की जा रही है।

यहां बता दें कि 11.5 एकड़ एरिया में विकसित नमो घाट को 35.83 करोड़ रुपये लागत से तैयार किया गया है। इस घाट के दूसरे चरण का काम भी अंतिम चरण में है और इसके बाद यह पहला ऐसा घाट होगा, जो जल, थल व नभ तीनों से जुड़ जाएगा। जाएगा। यहां दो हेलीपैड बनाए जा रहे हैैं।

सरकारी आयोजनों में भी लिया जाएगा किराया

नमो घाट पर होने वाले सरकारी आयोजनों का भी किराया लिया जाएगा। आगामी दिनों में होने वाले काशी तमिल संगमम के लिए बकायदा घाट की बुकिंग कराई गई है। इससे पहले 27 नवंबर को देव दीपावली के आयोजन के लिए पर्यटन विभाग ने स्मार्ट सिटी से इस घाट की बुकिंग कराई थी।

नमो घाट पर आयोजन के लिए स्थान और शुल्क निर्धारित किया गया है। घाट का विधिवत उदघाटन के बाद शहर के लोग भी आयोजनों के लिए इसकी बुकिंग करा सकेंगे। - कौशल राज शर्मा, मंडलायुक्त

Share this story