राष्ट्रीय कर्मचारी महासंघ की केंद्रीय कार्य समिति की बैठक 14 व 15 मई को त्रिपुरा में

राष्ट्रीय कर्मचारी महासंघ की केंद्रीय कार्य समिति की बैठक 14 व 15 मई को त्रिपुरा में


मंडी, 10 मई (हि.स.)। जीईएनसी व भारतीय मजदूर संघ से संबंधित सरकारी कर्मचारियों के सगंठन राष्ट्रीय राज्य कर्मचारी महासंघ की केंद्रीय कार्य समिति बैठक अगरतला त्रिपुरा में 14- 15 मई 2022 को राष्ट्रीय अध्यक्ष विपन कुमार डोगरा की अध्यक्षता में होगी। बैठक में मुख्य अतिथि जीईएनसी के प्रभारी व बीएमएस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एम पी सिंह,पूर्वोतर क्षेत्रीय संगठन मंत्री श्री सुनील किरवई, राष्ट्रीय राज्य कर्मचारी महासंघ के राष्ट्रीय महामंत्री विष्णु वर्मा होंगे।

राष्ट्रीय प्रचार सचिव राष्ट्रीय राज्य कर्मचारी महासंघ ने दी । उन्होंने कहा कि 13 मई रात्री को संचालन व पदाधिकारीयों की बैठक होगी। इस बैठक में राष्ट्रीय कार्य समिति के सदस्य, सभी राज्य इकाईयों के प्रदेश अध्यक्ष व महामंत्री भाग लेंगे। हिमाचल से भी प्रदेश अध्यक्ष इंद्र ठाकुर व अन्य राष्ट्रीय कार्य समिति सदस्य भाग लेने त्रिपुरा जाएंगें। बैठक मे मांगो को लेकर आगामी राष्ट्र व्यापी सघंर्ष की रुप रेखा बनाई जाएगी व संगठन का कार्य देश के सभी राज्यों में हो व बीएमएस की रीति व नीति के अनुसार चले इस पर विचार मंथन होगा। लखनऊ में जनवरी 2022 में हुए राष्ट्रीय अधिवेशन के बाद यह पहली होने वाली महत्वपूर्ण बैठक में प्रधानमंत्री व सभी राज्य सरकारों से देश के सभी कर्मचारीयों को पुरानी पैंशन सुविधा देने की पुरजोर मांग की जाएगी। देश में एक समान वेतनमान वं अन्य सुविधाएं, सेवा निवृति आयु, न्यूनतम वेतन महंगाई सुचकांक के अनुसार 24000 रूपए मासिक देने , मानदेय ,पचायतों , परियोजनाओं व आऊटसोरस पर हो रही राज्यों में र्भतियों पर रोक लगाकर नियमित भर्ति करने व पूर्व में कार्यरत कर्मचारियों को नियमित करने की भी मांग की जाएगी।

बैठक में सरकारों से सर्वोच्च न्यायालय के र्निणय एक समान काम एक समान वेतनमान को लागू करने, करुणामुलक भी आधार पर आश्रितों को बिना र्शत रोजगार देने व सभी लंबित मामलों का निपटारा करने, की भी मांग की जाएगी। इसके अलावा कर्मचारीयों को अपने सेवाकाल में कम से कम 4 पदोन्नतियां प्रदान करने, चुर्तथ श्रैणी के कर्मचारियों को एक मूश्त छूट देकर वरिष्ठता व योग्यता के अनुसार तृतीय श्रेणी के पदों पर पदौन्न्त करने, सभी राज्यों में आगनवाड़ी वर्करज को सुपरवाईजर व अन्य पदों में कोटा देने,आशा कार्यर्कताओं को प्रशिक्षण करवा कर हैल्थ वर्करज के पदों पर कोटा देने, 20 वर्ष पूर्ण कर चुके महिला व पुरुष स्वास्थ्य कार्यर्कताओं को एक मुश्त छुट देकर सुपरवाईजर के पदों पर अपग्रेड कर पदोन्नत करने के अलावा देश के सभी राज्यों के विभागों,र्बोडों ,निगमों, में कर्मचारियों के आवश्यक रिक्त पदों को भरने की मांग की जाएगी। जिनमें फिल्ड व तकनिकि स्टाक कर्मियों, लिपिक, चतुर्थ श्रेणी कर्मियों, सफाई कर्मचारियों सहित आवश्यक सेवाओं में रिक्त पदों को भरने की मांग भी उनके एजेंडे में शामिल है। राज्यों में कर्मचारी संघों को सरकारों द्वारा मनमाने ढंग से मान्यता देने व चुने हुए प्रतिनिधियों की उपेक्षा करने पर भी कड़ा रुख अपनाकर महासंघ से जुड़े राज्य संघों को मान्यता देने की भी मांग की जाएगी । उन्होंने कहा कि बैठक में इन मांगों को पूर्ण करने व सरकार पर दबाव डालने के लिए राष्ट्रव्यापी आंदोलन की रुप रेखा बनाई जाएगी ।

हिन्दुस्थान समाचार/मुरारी/उज्जवल/सुनील

Share this story

Around The Web