किसान के बेटे ने UPSC में 6वीं रैंक लाकर पूरा किया अपना सपना, पढिये यश की कड़ी मेहनत की सच्ची कहानी

UPSC IAS Success Story: हर बार की तरह UPSC सिविल सेवा परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद कई प्रतिभागियों के सपने साकार हुए। कितने अधूरे रह गए।
किसान के बेटे ने UPSC में 6वीं रैंक लाकर पूरा किया अपना सपना, पढिये यश की कड़ी मेहनत की सच्ची कहानी

UPSC IAS Success Story: हर बार की तरह UPSC सिविल सेवा परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद कई प्रतिभागियों के सपने साकार हुए। कितने अधूरे रह गए। यूपीएससी सीएसई रिजल्ट 2022 में यूपी के अमरोहा के रहने वाले यश चौधरी ने छठी रैंक हासिल कर अपने परिवार का नाम रौशन किया है.

यश चौधरी अमरोहा की सादात तहसील के नौगामवा गांव के रहने वाले हैं. उनके पिता नौनिहाल सिंह एक किसान हैं, उनकी मां राकेश देवी एक गृहिणी हैं। यश चौधरी दो भाई और एक बहन में सबसे छोटे हैं। वह 2018 से यूपीएससी की तैयारी कर रहा था।

यश चौधरी ने छठा स्थान पाकर देश के साथ-साथ अपने परिवार का भी मान बढ़ाया है। यश अपनी सफलता का पूरा श्रेय अपने परिवार को देते हैं। उनका कहना है कि मेरे जुनून के साथ-साथ मेरे माता-पिता ने भी मेरा काफी साथ दिया।

2019 में यश का चयन सीआरपीएफ में असिस्टेंट कमांडेंट के पद के लिए हुआ था। आईएएस बनने की ख्वाहिश रखने वाले यश चौधरी ने यूपीएससी की तैयारी जारी रखी। 2019 में सीआरपीएफ में सहायक कमांडेंट के पद पर चयनित होने के बाद वे असाधारण अवकाश पर घर आए ताकि यूपीएससी की तैयारी अच्छी तरह से हो सके। जिसका परिणाम भी अच्छा रहा कि वर्ष 2022 में यश चौधरी ने यूपीएससी में देश में छठा स्थान प्राप्त किया।

मेहनत से पूरा हुआ सपना

यश के मुताबिक सफलता आसानी से नहीं मिलती इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी। उन्होंने कहा कि उनका बचपन से ही यूपीएससी परीक्षा पास करने का सपना था, उन्होंने अपने सपने को पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत की और यूपीएससी परीक्षा में सफल हुए।

Share this story

Around The Web