Flex Fuel: क्या होता है फ्लेक्स फ्यूल? भारत में जल्द शुरू होगा प्रयोग

फ्लेक्स फ्यूल 1 अल्कोहल आधारित सिविल है। इसे गन्ने और मक्के के फसलों से तैयार किया जाता है। भारत करने का बहुत बड़ा उत्पादक है इसलिए इसे बनाने में रॉ मैटेरियल की कमी नहीं होने वाली है।
Flex Fuel: क्या होता है फ्लेक्स फ्यूल? भारत में जल्द शुरू होगा प्रयोग

Flex Fuel : विश्व भर में इन दिनों की कीमत बढ़ती जा रही है। इसी को देखते हुए अब सभी इसके विकल्प को तलाश रहे हैं। इसी विकल्प में से एक है फ्लेक्स फ्यूल। भारत में जल्द ही इससे चलने वाली गाड़ियों को लाया जाएगा।

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी इस महीने के 28 सितंबर को आधिकारिक तौर पर इसे पेश करेंगे। अगर आप नहीं जानते कि फ्लेक्स फ्यूल होता क्या है तो आपको बता दें कि इसमें पेट्रोल के साथ एथेनॉल या मेथेनॉल को मिक्स किया जाता है।

क्या होता है फ्लेक्स फ्यूल (What is Flex Fuel)

यह एक प्रकार का इंधन है जैसे आप पेट्रोल या डीजल से अपने वाहन को चलाते हैं वैसे ही इसके द्वारा भी गाड़ियों को चलाया जा सकता है। यह एक मिक्स्ड फ्यूल है जिसमें पेट्रोल के साथ एथेनॉल या मेथेनॉल को मिलाया जाता है।

कैसे बनता है (Flex Fuel Making Process)

फ्लेक्स फ्यूल 1 अल्कोहल आधारित सिविल है। इसे गन्ने और मक्के के फसलों से तैयार किया जाता है। भारत करने का बहुत बड़ा उत्पादक है इसलिए इसे बनाने में रॉ मैटेरियल की कमी नहीं होने वाली है। गन्ने और मक्के को फर्मेंटेशन प्रोसेस से गुजारा जाता है जिसके लिए स्टार्ट और शुगर का इस्तेमाल होता है।

आज के समय में जहां इंधन के अलावा सीएनजी एक विकल्प है। इसके लिए गाड़ी में किट लगवाना पड़ता है। इस किट के लिए अलग से पैसे चुकाने पड़ते है। लेकिन फ्लेक्स फ्यूल एक प्रकार का इंधन है जो आपके पैसे भी बचाएगा और इसके लिए आपको किसी किट की आवश्यकता भी नहीं पड़ती है।

Flex Fuel की कीमत पेट्रोल और डीजल के मुकाबले काफी कम होती है। आज के समय में इसकी कीमत ₹60 से 70 रुपए प्रति लीटर है जो पेट्रोल ₹30 सस्ता है। फ्लेक्स फ्यूल से प्रदूषण भी नहीं होता है।

Share this story

Around The Web