छींकते समय हम क्यों बोलते है 'सॉरी' और 'गॉड ब्लेस यू'? क्या इसके पीछे की वजह जानते है आप

छींकने के दौरान आपने कई बार देखा होगा  कि लोग सॉरी बोलते हैं. साथ ही जिसके सामने छींका गया हो, वो गॉड ब्लेस यू बोलता है।
छींकते समय हम क्यों बोलते है 'सॉरी' और 'गॉड ब्लेस यू'? क्या इसके पीछे की वजह जानते है आप

डिजिटल डेस्क : अक्सर आपने कई लोगों को पब्लिक में छींकते हुए सॉरी बोलते सुना होगा. साथ ही कई लोग छींकने वाले को गॉड ब्लेस यू कहते सुने जाते हैं. लेकिन क्या आपको इसकी वजह पता है?

छींकने के फायदें

छींकना एक प्राकृतिक क्रिया है। अगर आप छींकते हैं, तो ये बॉडी के लिए काफी अच्छा संकेत माना जाता है।  इससे बॉडी के अंदर गई सारी गंदगी बाहर आ जाती है। जब कभी बॉडी के अंदर बाहरी तत्व घुसते हैं, तो ये अंदर कई तरह की समस्याओं को पैदा कर सकते हैं। ऐसे में छींकने से ये तत्व बाहर निकल जाते हैं।

क्यों बोलते है सॉरी और गॉड ब्लेस यू

छींक से जुड़ी एक रोचक बात की तरह आज हम आपका ध्यान दिलाना चाहेंगे। छींकने के दौरान आपने कई बार देखा होगा  कि लोग सॉरी बोलते हैं। साथ ही जिसके सामने छींका गया हो, वो गॉड ब्लेस यू बोलता है। हम और आप भी इसे फॉलो करते हैं।लेकिन क्या आपने कभी ये जानने की कोशिश की है कि आखिर ऐसा क्यों किया जाता है?

ये है कारण

जानकार लोगों के मुताबिक़,जब इंसान छींकता है तो वो अपनी बॉडी के अंदर मौजूद टॉक्सिक वेस्ट को बाहर की तरफ निकालता है। ऐसे में चान्सेस काफी ज्यादा होते हैं कि आपके छींकने के दौरान वहां मौजूद दूसरे लोगों के अंदर सांस लेने के दौरान वो वेस्ट चला जाए।  इससे सामने वाला इंसान बीमार पड़ सकता है। 

इस वजह से हम छींकते हुए सॉरी या एक्सक्यूज मी बोलते हैं।  वहीं छींकने की क्रिया के दौरान बॉडी पर इसका काफी असर पड़ता है। ये कई बार जानलेवा भी हो सकता है। इसकी वजह से सामने वाला गॉड ब्लेस यू बोलता है।

गलती से भी ना रोकें छींक

हममें से ऐसे कई लोग हैं, जिन्हें ऐसा लगता है कि छींकने की वजह से पब्लिक में लोग उन्हें जज करेंगे। लेकिन आपको बता दें कि छींक रोकना काफी खतरनाक हो सकता है। ऐसा भूल से भी नहीं करना चाहिए।  अगर आपको अपने आसपास के लोगों की परवाह है तो छींकते हुए अपने नाक पर रुमाल रख लें। लेकिन कभी भी छींक को रोकने की कोशिश ना करें।

Share this story

Around The Web