Chanakya Niti: ऐसी महिलाओं का एक पुरुष से नहीं भरता मन, होती है एक से ज्यादा मर्दो की चाह

चाणक्य नीति के इस श्लोक में आचार्य चाणक्य ने कहा कि पुरुषों की तुलना में स्त्रियों की भूख दोगुनी होती है। पुरुषों की तुलना में महिलाओं की शर्म चार गुना अधिक होती है।
Chanakya Niti: ऐसी महिलाओं का एक पुरुष से नहीं भरता मन, होती है एक से ज्यादा मर्दो की चाह
दून हॉराइज़न, नई दिल्ली

चाणक्य नीति (Chanakya Niti) आचार्य चाणक्य की बहुत विशिष्ट ग्रन्थों में से एक है। चाणक्य नीति में व्यक्तिगत और जीवन से जुड़े रिश्तों, जैसे माता-पिता, दोस्त, पत्नी और भाई, के बारे में भी बताया गया है।

कहा जाता है कि चाणक्य नीति का पालन करने से सफलता मिलती है। चाणक्य नीति में आचार्य चाणक्य ने बताया कि स्त्रियों की इच्छाएं पुरुषों से कई गुना अधिक होती हैं।

चाणक्य नीति के इस श्लोक में आचार्य चाणक्य ने कहा कि पुरुषों की तुलना में स्त्रियों की भूख दोगुनी होती है। पुरुषों की तुलना में महिलाओं की शर्म चार गुना अधिक होती है।

इसके अलावा, स्त्रियों में काम की भावना पुरुषों की तुलना में आठ गुना अधिक होती है और साहस छह गुना अधिक होता है। चाणक्य ने कहा कि स्त्रियों में सहनशक्ति और लज्जा की भावना भी पुरुषों से अधिक होती है, लेकिन वे अपनी इच्छा को नहीं बतातीं।

इस श्लोक में आचार्य चाणक्य ने कहा कि अगर शिष्य मूर्ख है तो उसे उपदेश देना बेकार है, और अगर स्त्री बुरी है तो उसे पालना बेकार है। आप कितने भी बुद्धिमान हों, आपको कष्ट झेलना ही पड़ेगा अगर आपका धन नष्ट हो गया है या आप किसी दुखी व्यक्ति के साथ संबंध बना रहे हैं।

Share this story