Chanakya Niti: ऐसी महिलाओं के शादी के बाद भी होते है गैर मर्दो संग सम्बन्ध, पुरुष समझ लें ये संकेत

चाणक्य नीति के अनुसार, पुरुष को शादी करने से पहले स्त्री के स्वभाव, संस्कार, लक्षण, गुण और अवगुणों को जानना चाहिए, न कि सुंदरता। 
Chanakya Niti: ऐसी महिलाओं के शादी के बाद भी होते है गैर मर्दो संग सम्बन्ध, पुरुष समझ लें ये संकेत
दून हॉराइज़न, नई दिल्ली

चाणक्य नीति (Chanakya Niti) में आचार्य चाणक्य ने मानव जीवन के हर पहलू पर चर्चा की है। चाणक्य नीति में पिता, पुत्र, पुत्री, पत्नी और दोस्तों के व्यवहार के बारे में भी बताया गया है। चाणक्य नीति बताता है कि लोगों को क्या करने से बचना चाहिए, जो उनकी पूरी जिंदगी को खराब कर सकते हैं। आइए चाणक्य नीति में आचार्य चाणक्य ने शादी करने के बारे में क्या कहा है।

चाणक्य नीति के अनुसार, संस्कारवान स्त्री से ही शादी करनी चाहिए। स्त्री असभ्य होगी और सब कुछ बर्बाद कर देगी। संस्कारहीन महिला अपने पति और परिवार की जिंदगी को बर्बाद करती है। संस्कारहीन महिला से विवाह नहीं करना चाहिए।

चाणक्य सिद्धांत के अनुसार, एक संस्कारवान स्त्री से शादी करने से पति का घर स्वर्ग बन जाता है। ईमानदार स्त्री अपने पति और पूरे परिवार का ख्याल रखती है। वह बेवजह बहस नहीं करती और अपने पति और परिवार को कटु शब्द नहीं कहती।

चाणक्य नीति में कहा गया है कि स्त्री की सुंदरता सिर्फ रंग-रूप नहीं होती। यदि कोई पुरुष सिर्फ किसी स्त्री की सुंदरता को देखकर शादी करता है, तो वह दुनिया में सबसे मूर्ख है। स्त्री के गुणों को देखकर पुरुष को उससे शादी करनी चाहिए।

चाणक्य नीति के अनुसार, पुरुष को शादी करने से पहले स्त्री के स्वभाव, संस्कार, लक्षण, गुण और अवगुणों को जानना चाहिए, न कि सुंदरता। चाणक्य ने कहा कि अगर कोई स्त्री रंग-रूप में सुंदर नहीं है, लेकिन उसके अच्छे संस्कार हैं तो उससे शादी कर लेनी चाहिए। ऐसी स्त्री से पुरुष का भविष्य खुश होगा।

Share this story