किरायेदारों का सत्यापन अनिवार्य: देहरादून में 394 मकान मालिकों का पुलिस ने काटा चालान!

एसएसपी ने बताया कि लोग घर में बाहरी किरायेदार और नौकर रखते हैं तो उसका पुलिस सत्यापन जरूर करा लें।
किरायेदारों का सत्यापन अनिवार्य: देहरादून में 394 मकान मालिकों का पुलिस ने काटा चालान!

देहरादून : बिना सत्यापन के किरायेदार रखने वालों के खिलाफ पुलिस ने रविवार को देहरादून जिले के कई थाना क्षेत्रों में अभियान चला। इस दौरान 394 मकानों में बिना सत्यापन के किरायेदार रहते मिले। इस सभी मकान मालिकों का पुलिस ऐक्ट में दस-दस हजार रुपये का चालान किया।

यह कुल जुर्माना राशि 39.40 लाख रुपये बनी। बता दें कि हाल में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बाहरी लोगों के सत्यापन का निर्देश दिया है। एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि थाना कैंट, विकासनगर, राजपुर, नेहरू कॉलोनी, प्रेमनगर, रायपुर, सहसपुर, बसंत विहार, सेलाकुई क्षेत्र में सत्यापन अभियान चला।

सत्यापन में थाना पुलिस और पीएसी की टीम को शामिल किया गया। इस दौरान घरों में किरायेदार रखने वाले लोगों, नौकरों का सत्यापन नहीं कराने वालों के खिलाफ 83 पुलिस अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई। 394 मकानों में बिना सत्यापन कराए किरायेदार रहते मिले।

वहीं सत्यापन के दौरान सड़कों पर घूमने वाले बाहरी संदिग्धों को पकड़ा गया। कुल 262 लोगों को पास के थाने ले जाया गया। इनमें 146 लोगों का 81 पुलिए ऐक्ट में चालान करते हुए 39,250 रुपये का जुर्माना वसूल किया गया है। एसएसपी ने बताया कि लोग घर में बाहरी किरायेदार और नौकर रखते हैं तो उसका पुलिस सत्यापन जरूर करा लें।

विकासनगर में 91 मकान मालिकों पर कार्रवाई की गई

विकासनगर, सहसपुर और सेलाकुई में रविवार को पुलिस ने बिना सत्यापन के किरायेदार रखने पर करीब 91 मकान मालिकों का दस-दस हजार का कोर्ट चालान काटा है। जबकि बाहरी राज्यों के सौ से अधिक लोगों को थानों में ले जाकर पूछताछ की जा रही है। एसएसपी दून ने आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों की पहचान करने के लिए पछुवादून पुलिस को सघन सत्यापन अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं।

Share this story