"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

साप्ताहिक राशिफल :  24 मई 2020 से 30 मई 2020 तक जानिये कैसा रहेगा आपका पूरा हफ्ता 

  

मेष: इस सप्ताह मेष राशि के धन भावगत सूर्य एवं बुध तथा शुक्र का गोचर आपकी अपनी क्षमताओं को बढ़ाने वाला रहेगा। इस सप्ताह भूमि एवं भवन के कामों में आपके लाभ मिलने की उम्मीदें और प्रबल होती रहेगी। यदि आप किसी कार्यक्रम के संचालक हैं, तो उसके प्रसारण को और उपयोगी एवं सजीव बनाने में व्यस्त रहेंगे।

हालांकि विदेश एवं प्रवास में आपको समस्याओं को सुलझाने के लिये कुछ प्रभावशाली लोगों से सहयोग मिलता हुआ रहेगा। घर परिवार में खुशियों की स्थिति बनी हुई रहेगी। इसी प्रकार आपके पराक्रम भाव में राहू का गोचर आपको धन लाभ एवं प्रतिष्ठा को देने के संकेत दे रहा है। प्रयासों को तीव्र करें, तो लाभ रहेगा। इस सप्ताह आप प्रतिष्ठत व्यक्ति से अपनी योजनाओं को अंतिम रूप देने का विमर्श करते हुये रहेंगे।

वृषभ : इस सप्ताह इस राशि में स्वग्रही शुक्र का गोचर एवं बुध तथा सूर्य संयोग हो रहा है। जिससे आप अपने सेहत को और क्षमतावान बनाने में लगे हुये रहेंगे। क्योंकि राशि स्वामी आपकी तंदुरूस्ती बनाने के लिये कोई मौका नहीं छोडऩे वाले रहेंगे। हालांकि सूर्य आपको स्थान परिवतिज़्त करने वाला एवं यात्राओं में जाने के संकेत दे रहा है।

जिससे आपको और अधिक मेहनत करने की जरूरत बनी हुई रहेगी। किन्तु बुध आपके सेहत एवं परिवार में परेशानियों की स्थिति के संकेत कर रहा है। अत: संबंधित पहलुओं का ध्यान देना जरूरी रहेगा। वहीं धन भाव का राहू अधिक धन व्यय की स्थिति को देता हुआ रहेगा। कुछ मामलों में झगड़ों की स्थिति हो सकती है। धैर्य को बनाना जरूरी रहेगा।किन्तु गुरू का गोचर आपके लिये कल्याणप्रद एवं धन दाता बना हुआ रहेगा।

मिथुन : इस सप्ताह मिथुन राशि में राहू का गोचर रहेगा। जो कि आपको कई तरह की सेहत की परेशानियों को देने वाला रहेगा। इसके अतिरिक्त सरकारी एवं निजी क्षेत्रों में आपके विरूद्ध कोई षडय़ंत्र कर सकता है।.यानी आपके पद एवं जिम्मेदारी को लेकर कोई शिकायत हो सकती है। राजनैतिक एवं सामाजिक तथा प्रशासनिक जीवन के कामों में सावधानी की जररूत रहेगी।

क्योंकि राहू का गोचर अचानक ही ऐसी स्थिति को देने वाला बना हुआ रहेगा। हालांकि बुघ स्वग्रही होकर आपको रोग एवं पीड़ाओं से बचाने वाला रहेगा। किन्तु दाराभावगत केतू का गोचर भी आपको जहॉ व्यवसायिक जीवन में परेशानियों को देने वाला रहेगा। पत्नी एवं परिवार को लेकर चिंतायें बढ़ी हुई रहेंगी। और आपके व्यय का स्तर भी इस सप्ताह अधिक रहने के संकेत दे रहा है।

कर्क : इस सप्ताह कर्क राशि वालों के षष्ठ भावगत केतू का गोचर रहेगा। जिससे आप अपने प्रवास एवं विदेश के कामों को साधनें में लगे हुये रहेंगे। इस सप्ताह किसी लेन-देन के मामलें को निपटाने तथा निवेश व कमीशन के कामों में लाभ प्राप्त करने की स्थिति बनी हुई रहेगी। मामा पक्ष की तरफ से कोई प्रसन्नता का समाचार मिलेगा।

यदि कोई पीड़ा है, तो उसके ठीक होने के आसार रहेंगे। यदि आपकी कोई बहुमूल्य वस्तु गुम हो गयी है। तो उसके पुन: प्राप्त होने के आसार बने हुये रहेंगे। इसी प्रकार आपके आपके दारा भावगत गुरू का गोचर आपके लाभ एवं सम्मान को और वृद्धि देने वाला रहेगा। जिससे पत्नी एवं पत्नी के मध्य समांजस्य स्थापित होता रहेगा। शनि का गोचर इसी भाव में होने से कुछ चिंताये एवं आशंकाये समय-समय पर प्रखर होती रहेंगी।

सिंह : इस सप्ताह सिंह राशि वाले के विद्या भावगत केतू का गोचर रहेगा। जो संगीत एवं फिल्म की दुनियां में परेशानियों का दौर देने वाला रहेगा। जिससे आपका धन व्यय अधिक होता रहेगा। किन्तू वांछित लक्ष्य से पीछे रहेंगे। किसी रिकार्ड किये गये संगीत को पुन: सुधारना पड़ सकता है। संतान पक्ष आपकी बातों को अनसुना करते रहेंगे।

जिससे आपको दु:ख हो सकता है। धैर्य को बनाकर चलना लाभप्रद रहेगा। इसी प्रकार रोगभावगत गुरू का गोचर आपकी परेशानियों को कम करने में दिलचस्प नहीं दिख रहे हैं। हालांकि शनि यहां कुछ मेहरबानी करने का मन बना चुके हैं। धन एव सम्मान दोनों का लाभ रहेगा। आप किसी राजनैतिक एवं सामाजिक कामों में आगे रहेंगे। न्याय, प्रबंधन, तकनीक एवं चिकित्सा जैसे क्षेत्रों में भी आपकी पकड़ बनी हुई रहेगी।

कन्या : इस सप्ताह कन्या राशि वालों के सुख भावगत केतु का गोचर रहेगा। जो काम-काजी जीवन में आपके परिश्रम के और बढ़ा देगा। जिससे आपको अपने संबंधित उद्योग एवं विक्रय को तेजी देने की चुनौती बनी हुई रहेगी। हालांकि आप कुशल श्रम एवं अच्छी तकनीक के लिये इस सप्ताह परेशान रहेंगे। सूझबूझ से काम करने की जरूरत बनी हुई रहेगी।

जिससे आप खुश रहेंगे। अचानक ही किसी जरूरी बैठक को इस सप्ताह आपको बुलाना पड़ेगा। इसी प्रकार शनि का गोचर आपके कला एवं सूझबूझ को खराब कर सकता हैं जिससे आप वांछित लक्ष्य से पीछे जा सकते है। और निजी रिश्तों में भी परस्पर आरोप एवं प्रत्यारोप शुरू हो सकते हैं। किन्तु गुरू का गोचर इसी भाव में होकर आपकी आमदनी एवं निजी संबंधों को टूटने से बचाने वाला रहेगा।

तुला : इस सप्ताह आपके पराक्रम भाव में केतु का गोचर रहेगा। जो आपके कामों को साधने में सहयोगी बना हुआ रहेगा। जिससे आप फिल्म, कला, चिकित्सा, संवाद राजनीति प्रशासन आदि के संबंधित कामों को और बेहतर ढंग से करने में लगे रहेंगे। और आपको धन एवं सम्मान मिलता हुआ रहेगा। घर एवं परिवार में खुशियों की स्थिति रहेगी।

हालांकि गुरू एवं शनि का सुख भाव में गोचर कई बार आपको काम-काजी जीवन में असंतोष एवं कलह को देने वाला बना हुआ रहेगा। जिससे आप परेशान होते रहेंगे। वैसे आपको अपने विवेक का सहारा लेते हुये संबंधित कामों को पूरा करने की दरकार बनी हुई रहेगी। सुख भाव गत पाप ग्रही गोचर आपके भौतिक सुख एवं विश्राम के क्रम को भी बिगाड़ सकता है। विवेक एवं धैर्य को बनाने रखें।

वृश्चिक : इस सप्ताह़ वृश्चिक राशि के धन भावगत केतू का गोचर रहेगा। जो आपके विरोधियों को सामने ला सकता है। ऐसे में आपको धैर्य एवं विवेक से काम लेने की जरूरत बनी हुई रहेगी। किन्तु कारोबारी जीवन में अपने संबंधित सेवाओं एवं उत्पादों की गुणवत्ता को बढ़ाने में ध्यान देते हुये रहेंगे। जो आपके लिये खुशी की स्थिति देने वाला रहेगा।

इस सप्ताह आप स्वादिष्ट व्यंजनों की ओर रूख करते हुये रहेंगे। जिससे आपका धन व्यय अधिक होने की स्थिति बनी हुई रहेगी। बात करें शनि एवं गुरू के गोचर की तो वहॉ भी आपको मिश्रित परिणामों की स्थिति बनी हुई रहेगी। कहने का अभिप्राय है कि एक ग्रह आपके अच्छे परिणामों को देने मे विफल रहेगा। वहीं दूसरा आपको शुभ एवं सकारात्मक परिणामों को देने की मुहिम छेड़े रहेगा।

धनु : इस सप्ताह धनु राशि में केतू का गोचर रहेगा। जो आपके स्वास्थ्य की क्षमताओं को कमजोर कर सकता है। जिससे आपको शरीर में कष्ट एवं भय की स्थिति उभर सकती है। अत: अपने खान-पान एवं व्यायामों को और उपयुक्त बनाने की कोशिश करें, तो आपके लिये अच्छा रहेगा।

इस सप्ताह अधिक धन व्यय एवं कार्मिक एवं व्यापारिक जीवन में भाग-दौड़ की स्थिति बनी हुई रहेगी। किन्तु धन भावगत गुरू का गोचर आपके लिये अच्छी सौगात को देने वाला रहेगा। जिससे आपके कोई रूके हुये काम बनेंगे। तथा संबंधित क्षेत्रों से धन लाभ की स्थिति बनी हुई रहेगी। किन्तु शनि का गोचर इन सम्भावनाओं को कमजोर करने वाला रहेगा। जिससे आपको सावधानी बनाते हुये शनि के आलस्य एवं प्रमाद को दूर करना है।

मकर : इस सप्ताह मकर राशि में स्वग्रही शनि की स्थिति रहेगी। जिससे आप अपने कामों चाहे वह प्रबंधन, न्याय, अध्ययपन, चिकित्सा, एवं कमीशन के हो या फिर उत्पादन एवं अन्य कोई कायज़् हो उन्हे पूर्ण करने के लिये पूरी तत्परता से काम लेने की जरूरत बनी हुई रहेगी।

हालांकि स्वग्रही होने से हानि की आशंका को कम करने वाला रहेगा। फिर भी आपको संबंधित व्यापार एवं घर परिवार एवं सेहत को सुखद रखने के लिये प्रयासों एवं सावधानियों को बनाने की जरूरत रहेगी। क्योंकि गुरू का गोचर अरिष्टकारी होने के संकेत मिल रहे है। अत: आपके कामों एवं दिनचर्या में सूझबूझ को बनाकर चलने में ही फायदा रहेगा। हालांकि धन भावगत मंगल का गोचर भी आपके लिये अधिक अनुकूलता देने में सक्षम नहीं रहेगा।

कुम्भ : इस सप्ताह कुम्भ राशि से पराक्रम एवं सुख भाव में सूर्य का गोचर रहेगा। जो कि फिल्म, उत्पादन, विक्रय, कला, संगीत, चिकित्सा, प्रबंधन आदि के कामों में आपको प्रगति देने वाला रहेगा। जिससे आप प्रसन्न रहेंगे। सेहत के लिहाज से यह सप्ताह अधिक उपयोगी नहीं रहेगा। जिससे आपको संबंधित उपचारों की जरूरत बनी हुई रहगी। किन्तु सुखभाव गत शुक्र का गोचरीय भ्रमण आपको मान एवं प्रतिष्ठा को देने वाला रहेगा।

जिससे प्रसन्न रहेंगे। कार्य एवं व्यवसाय के क्षेत्रों मे आपकी ख्याति रहेगी। नौकरी के क्षेत्रों में आपके कामों को पुरूस्कृत किये जाने की स्थिति बनी हुई रहेगी। पारिवारिक जीवन में खुशियों की स्थिति रहेगी। हालांकि सुतभाव में राहू का गोचर आपके पारिवारिक जीवन की सुख एवं शांति को भंग कर सकता है।

मीन : इस सप्ताह मीन राशि के धन एवं पराक्रम भावगत सूर्य का गोचर रहेगा। जिससे आप धन निवेश एवं विदेश के कामों को पूरा करने के लिये पहले से अधिक तत्पर रहेंगे। विदेश एवं प्रवास सहित आपको घर एवं परिवार में भी परस्पर समांजस्य बनाने एवं लाभ कमाने में प्रगति बनी हुई रहेगी।

इस सप्ताह आप किसी उच्च प्रतिष्ठत व्यक्ति या संस्था के साथ किसी कार्य की समीक्षा बैठक करने में व्यस्त रहेंगे। जिससे उससे लाभ एवं हानि का सही आंकड़ा जुटा पायेगे। वैसे सेहत में कुछ पीड़ा एवं कष्ट की स्थिति उभर सकती है। जिससे आप परेशान रहेंगे। किन्तु शुक्र का गोचर आपके लिये धन एवं वैभव को देने वाला बना हुआ रहेगा। जिससे आप प्रसन्न रहेंगे। हालांकि सुख भाव में राहू का गोचर आपके लिए कष्टप्रद रहेगा।

Share this story