क्योंकि सच जानना आपका हक़ है
क्योंकि सच जानना आपका हक़ है

बार्का एकेडमी कप : एशिया पैसिफिक की लगातार दूसरे वर्ष मेजबानी करेगा भारत

बार्का एकेडमी कप : एशिया पैसिफिक की लगातार दूसरे वर्ष मेजबानी करेगा भारत

नई दिल्ली : द हेरिटेज एक्सपेरिएंटियल लर्निंग स्कूल में स्थित बार्का एकेडमी, गुरुग्राम की पिचें बेहद शानदार प्रतिस्पर्धा के आयोजन के लिए पूरी तरह तैयार है, क्योंकि इस बार 4 आयु वर्ग का प्रतिनिधित्व करने वाले 6 देशों के 700 से अधिक युवा फ़ुटबॉलरों की 48 टीमें बार्का एकेडमी कप – एशिया पैसिफिक में भाग लेंगी। वर्ष 2019 में भी बार्क एकेडमी इंडिया ने इस टूर्नामेंट की मेजबानी की थी।

टूर्नामेंट में भाग लेने वाली 48 टीमें भारत, ऑस्ट्रेलिया, तुर्की, सिंगापुर, जापान और स्पेन का प्रतिनिधित्व कर रही हैं। सभी टीमें अंडर-9, अंडर-11, अंडर-13 और अंडर-15 श्रेणियों में हिस्सा ले रही हैं। इस टूर्नामेंट में हर टीम में 7 खिलाड़ी शामिल होंगे तथा अंडर-9 मैच के लिए इसकी अवधि 30 मिनट की होगी, जबकि अंडर-11 और अंडर-13 के लिए यह मैच 40 मिनट का और अंडर-15 के लिए 50 मिनट का होगा।

बार्का एकेडमी कप – एशिया पैसिफिक पर अपने विचार व्यक्त करते हुए श्री कार्लोस पालकिन, प्रमुख – बार्का एकेडमी, एपीएसी, ने कहा, “बार्का एकेडमी कप पूरी दुनिया में आयोजित होने वाले बेहद अहम टूर्नामेंट में शामिल है। यह एक ऐसा मंच है जो होनहार खिलाड़ियों को सामने लाता है, तथा क्षेत्र विशेष की टीमों के प्रदर्शन को बेहतर बनाता है।

बार्सिलोना में आयोजित होने वाले वार्षिक टूर्नामेंट के साथ इसका समापन होता है। पूरी दुनिया में मौजूद सभी बार्का एकेडमी में एक समान प्रशिक्षण पद्धति का पालन किया जाता है। और अंत में, निश्चित तौर पर जीतने वाली टीम अपने समकक्षों के बीच पहले स्थान पर होती है।

बार्का एकेडमी भविष्य के फ़ुटबॉलरों को तैयार करने की नींव है। इस साल के एपीएसी टूर्नामेंट में इस क्षेत्र के कुछ सबसे प्रतिभाशाली युवा फुटबॉलर शानदार प्रदर्शन करते नज़र आएंगे।”

श्रीमती अनुपमा जैन, डायरेक्टर, कन्सिएन्ट फ़ुटबॉल, ने कहा, “बार्का एकेडमी कप – एशिया पैसिफिक की लगातार दूसरे वर्ष मेजबानी का अवसर मिलना हमारे लिए अत्यंत गर्व की बात है।

वास्तव में यह पूरे देश के हर फ़ुटबॉल प्रेमी एवं प्रशंसकों के लिए बेहद यादगार लम्हा है। यह टूर्नामेंट केवल हार या जीत के बारे में नहीं है। बल्कि यह तो विभिन्न संस्कृतियों के एक साथ आने तथा जीवन भर के लिए नए-नए दोस्त बनाने का अवसर है।”

भारत में मौजूद अंतर्राष्ट्रीय स्तर के क्लबों के बीच, बार्का एकेडमी इंडिया द्वारा उपलब्ध कराई जाने वाली सुविधाएं देश में सबसे बड़ी हैं और इसने विभिन्न प्रारूपों में 30,000 से अधिक खिलाड़ियों को प्रशिक्षण दिया है। दिल्ली एनसीआर, मुंबई, पुणे और बेंगलुरु में स्थित फ़ुटबॉल स्कूलों में 2,500 से अधिक युवा फ़ुटबॉल खिलाड़ियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

एफ़सी बार्सिलोना का परिचय

119 साल पहले, वर्ष 1899 में एफ़सी बार्सिलोना की स्थापना हुई थी, और यह कई मायनों में अद्वितीय है। इस क्लब का स्वामित्व इसके 145,000 से अधिक सदस्यों के पास है और इसे विगत वर्षों में यूरोप के सर्वाधिक सफल क्लब होने का गौरव प्राप्त है। वर्ष 2004/05 के सीज़न के बाद से, उन्होंने क्लब के पांच चैंपियंस लीग ख़िताबों में से चार में जीत हासिल की है तथा अपने 25 घरेलू लीग ख़िताबों में से नौ को अपने नाम किया है।

अपनी अनोखी विशेषताओं की वजह से, ‘बार्का’ को ‘एक क्लब से बढ़कर’ माना जाता है। यह क्लब घरेलू स्तर की उत्कृष्ट प्रतिभाओं पर निर्भरता के लिए मशहूर है, साथ ही बेहतरीन खिलाड़ियों तथा अपने समय के सर्वश्रेष्ठ कोचों की मेहनत से टीम के खेल की विशिष्ट शैली का पूरी दुनिया में प्रदर्शन किया जाता है।

ये सारी बातें इस धरती पर सबसे ज्यादा प्रशंसित, पसंदीदा एवं वैश्विक खेल संस्थान बनने की अपनी महत्वाकांक्षा के अनुरूप हैं। वास्तव में यह मिशन विनम्रता, प्रयास, महत्वाकांक्षा, सम्मान और टीम-वर्क जैसे बुनियादी सिद्धांतों पर आधारित है, साथ ही यह क्लब समाज के प्रति अपने दायित्वों के निर्वहन के लिए भी मशहूर है और एफ़सी बार्सिलोना फाउंडेशन के माध्यम से इस प्रकार के कार्यों को पूरा किया जाता है तथा खेल के सकारात्मक मूल्यों के माध्यम से बच्चों को शिक्षित करने का काम किया जाता है।

हाल के वर्षों में जबरदस्त गति से विकास के कारण पूरी दुनिया में इसके प्रशंसकों की संख्या 315 मिलियन से अधिक हो चुकी है, जिसने एफ़सी बार्सिलोना को सोशल मीडिया पर वैश्विक नेतृत्वकर्ता के रूप में प्रतिष्ठित किया है।

कन्सिएन्ट फ़ुटबॉल का परिचय

कन्सिएन्ट फ़ुटबॉल वास्तव में दिल्ली-एनसीआर में स्थित द हेरिटेज स्कूल नेटवर्क के साथ मिलकर कन्सिएन्ट ग्रुप द्वारा जमीनी स्तर पर फ़ुटबॉल के विकास हेतु शुरू की गई एक पहल है; जिसमें द हेरिटेज स्कूल नेटवर्क शैक्षिक क्षेत्र में आरंभ किए गए इसके उपक्रम का एक हिस्सा है।

आज यह पूरे देश में फ़ुटबॉल के जमीनी स्तर पर विकास हेतु प्रतिबद्ध सबसे बड़े संगठनों में से एक है। इसके पोर्टफोलियो में फ़ुटबॉल लीग, कैंप, कोचिंग कोर्स एकेडमी और एक्सपोज़र ट्रिप जैसे कई कार्यक्रम शामिल हैं, जिसका मूल उद्देश्य भारत में फ़ुटबॉल के खेल के साथ-साथ खिलाड़ियों को व्यक्तिगत तौर पर विकसित करना है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More