क्योंकि सच जानना आपका हक़ है
क्योंकि सच जानना आपका हक़ है

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने की आधिकारिक घोषणा, इंदौर में इस दिन आयोजित होगा आईफा अवार्ड्स

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने की आधिकारिक घोषणा, इंदौर में इस दिन आयोजित होगा आईफा अवार्ड्स

भोपाल : इंटरनेशन इंडियन फिल्म एकेडमी का अवॉर्ड शो आईफा वीकेंड एंड अवार्ड्स 2020 का 21वां संस्करण अगले माह इंदौर आयोजित होगा। इंदौर में यह समारोह 27, 28 और 29 मार्च को डेली कॉलेज में होगा, जबकि आईफा से जुड़ा एक कार्यक्रम भोपाल के मिंटो कन्वेंशन हॉल में 21 मार्च को होगा।

फिल्म जगत के इस विख्यात अवार्ड शो को फिल्म स्टार सलमान खान और रितेश देशमुख होस्ट करेंगे। फंक्शन के दौरान ख्यात बॉलीवुड अभिनेत्रियां जैकलिन फर्नांडिस, कैटरीना कैफ परफार्म करेंगी। समारोह में लता मंगेशकर समेत कई गायक प्रस्तुति देंगे।

आईफा अवॉर्ड शो की घोषणा सोमवार को मिंटो हॉल में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने फिल्म अभिनेता सलमान खान और अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीज की मौजूदगी में की। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने आईफा का पहला टिकट भी खरीदा। जल्द ही इसके टिकट मिलने शुरू हो जाएंगे। यह दूसरा अवसर है जब भारत में इस अवार्ड शो का आयोजन होगा। इसके पूर्व यह 2019 में देश में पहली बार मुंबई में आयोजित हुआ था।

हमारे पास सागर और बर्फ नहीं पर जंगल और हेरिटेज है: सीएम

इस मौके पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि आईफा ने मध्यप्रदेश को चुनकर सही पहचान की है। हम चाहते हैं कि मप्र कि दुनियाभर में पहचान बने इसलिए आईफा अवार्ड शो इंदौर में आयोजित किया जा रहा है।

हमारे पास समुद्र नहीं है,बर्फ नहीं है पर जंगल हैं, हैरिटेज हैं और खूबसूरत धरती है। सबसे खास कि हमारे पास भोले-भाले लोग हैं। यह समारोह यहां के आदिवासी और गरीबों का सम्मान है। आज की युवा पीढ़ी और बुजुर्गों में काफी अंतर है। एमपी का युवा हाईटेक है। वह रोजगार और बिजनेस चाहता है।

आईफा से एमपी की विश्वस्ततरीय पहचान बनेगी और रोजगार के नए अवसर निर्मित होंगे। इस अवसर पर संस्कृति मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ, पर्यटन मंत्री सुरेंद्र सिंह बघेल, मुख्य सचिव एसआर मोहंती, प्रमुख सचिव पर्यटन फैज अहमद किदवई समेत आईआईएफए के प्रतिनिधि और अन्य अफसर मौजूद थे।

इसी मिट्टी का हूं मैं, यही से जुड़े हैं संस्कार: सलमान

प्रेस कॉफ्रेंस में सलमान खान ने कहा कि मैं पुश्तैनी मध्यप्रदेश का निवासी हूं। यहां से मेरी छह पीढ़ियों की यादें जुड़ी हैं। आजीविका के लिए हमारा परिवार मुंबई चला गया था। मध्यप्रदेश से खासतौर से अपने शहर इंदौर से मुझे बहुत लगाव है।

मेरा बचपन इंदौर में बीता। पलासिया से जुड़ी बचपन की यादें आज भी ताजा हैं। इंदौर-भोपाल में आइफा अवार्ड को होस्ट करना मेरे लिए खुशी की बात है। मैं इसी मिट्टी की देन हूं और मेरे संस्कार यहीं पले-बढ़े हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More