"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×
doon Horizon

रेस्क्यू करने में असफल रही दिल्ली पुलिस को डीसीडब्ल्यू ने समन जारी किया

  
रेस्क्यू करने में असफल रही दिल्ली पुलिस को डीसीडब्ल्यू ने समन जारी किया


रेस्क्यू करने में असफल रही दिल्ली पुलिस को डीसीडब्ल्यू ने समन जारी किया 


नई दिल्ली, 26 नवंबर (हि.स.)। दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) ने अपहृत 13 साल की बच्ची को रेस्क्यू करने हेतु बिहार जाने में विफल रहने पर दिल्ली पुलिस को समन जारी किया है। किशोरी का अपहरण नौ मई 2021 को देर रात में दिल्ली से किया गया था जिसके बाद पीड़िता की मां ने तुरंत थाना मैदान गढ़ी में प्राथमिकी दर्ज कराई और फिर डीसीडब्ल्यू को संपर्क किया। डीसीडब्ल्यू ने दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर जल्द से जल्द लड़की का पता लगाने के लिए पुरजोर प्रयास किए।

अंतत: 29 अक्टूबर 2021 को अपहृत किशोरी के बिहार के वैशाली जिले में होने का पता चला और साथ में ये भी पता चला कि उसका विवाह एक 19 साल के लड़के के साथ कर दिया गया है। दिल्ली पुलिस ने डीसीडब्ल्यू को आश्वासन दिया कि लड़की को जल्द से जल्द दिल्ली वापस लाया जाएगा, लेकिन करवाई होते-होते 13 दिन बीत गए और पुलिस टीम 10 नवंबर 2021 को बिहार गई।

देरी होने के कारण रेस्क्यू टीम को लड़की का वहा कोई नामों निशान नहीं मिला और उसके अपहरणकर्ता उसको दूसरे स्थान पर लेजाने में सफल हो गए। मामले में स्पष्टीकरण मांगने पर, पुलिस द्वारा डीसीडब्ल्यू को सूचित किया गया कि रेलवे टिकटों की अनुपलब्धता के कारण 10.11.21 से पहले रेस्क्यू टीम के लिए टिकटों का प्रबंध नहीं किया जा सका जिसके परिणामस्वरूप रेस्क्यू ऑपरेशन में देरी हुई।

डीसीडब्ल्यू ने मामले का कड़ा संज्ञान लेते हुए दिल्ली पुलिस को तलब कर मामले में विस्तृत जवाब मांगा है कि इतना गंभीर मामला होने के बावजूद रेस्क्यू में ढिलाई क्यों बरती गई। आयोग ने पुलिस से मामले पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए लड़की को वापिस लाने के लिए अन्य वैकल्पिक व्यवस्था नहीं करने का भी कारण भी पूछा है ? लड़की पहले से ही तस्करी की शिकार थी और इस तरह की लापरवाही ने उसे और अधिक खतरे में डाल दिया। अन्त में आयोग ने पुलिस से लड़की का पता लगाने और उसे जल्द से जल्द डीसीडब्ल्यू के सामने पेश करने को कहा है।

डीसीडब्ल्यू अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने पूरे मामले पर अपनी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा, “यह बिल्कुल भी स्वीकार्य नहीं है, इस तरह की लापरवाही बिलकुल गलत है पुलिस को तुरंत ही बिहार जाकर लड़की को रेस्क्यू करना चाहिए था। पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए किसी विशेष व्यवस्था का इंतजाम क्यों नहीं किया?। मैंने दिल्ली पुलिस को समन जारी कर रेस्क्यू में देरी के लिए विस्तृत जवाब मांगा है और उनसे यह भी सुनिश्चित करने को कहा है कि लड़की को डीसीडब्ल्यू के सामने तुरंत पेश किया जाए।”

हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story