"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×
doon Horizon

पुलिस अधिकारियों को बम ब्लास्ट की धमकी का आरोपित गिरफ्तार

  
पुलिस अधिकारियों को बम ब्लास्ट की धमकी का आरोपित गिरफ्तार


alwar


अलवर, 26 नवम्बर(हि.स.)। गूगल पर सर्च कर भिवाड़ी पुलिस के बड़े अधिकारियों के नंबर लेकर उन्हें भिवाड़ी क्षेत्र के छापर गांव की दुकानों में तीन बम ब्लास्ट करने की धमकी देने वाले आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपित मोहम्मद कैफ निवासी गांव छापर, थाना टपूकड़ा को खुश खेड़ा, टपूकड़ा थाना पुलिस व साइबर सेल टीम ने मात्र 2 घंटे में गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल पुलिस आरोोपी पूछताछ कर रही है।

चैलेंज कर अधिकारियों से कहा बचा सको तो बचा लो

भिवाड़ी एसपी राममूर्ति जोशी ने बताया कि 23 नवम्बर को पुलिस अधिकारियों के मोबाइल पर किसी अज्ञात ने एक मैसेज भेजा जिसमे लिखा था कि हम तुम्हे एक चैलेंज देते है, हम आने वाले 10 दिन के अन्दर टपुकङा के पास छापर गांव की दुकानों पर तीन बम ब्लास्ट करेंगे। चाहे कल करे या 10 दिन बाद जरुर करेंगे। खुशी की बात ये है कि यहा रात दिन दुकान खुली रहती है जिससे ब्लास्ट कभी भी कर सकता हूं, लेकिन हम तुम्हे चलैंज देते है दिन में ब्लास्ट करेंगे। हो सके तो बचा लेना छापर को और हां टाइम शुरू होता है अब। यह चैट सोशल मीडिया पर छोड़ रहा हूँ ताकी लोगो को पता चल जाये की मै पीछे से हमला नही करता हूँ। इस मैसेज को गम्भीरता से लिया अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अरुण मच्या एंव सीओ तिजारा प्रेम बहादुर के सुपरविजन व डीएसटी प्रथम भिवाङी व साईबर टीम भिवाड़ी व राजेश यादव SI के नेतृत्व मे टीम गठित की गई।

मोबाइल में मिले बलास्ट करने की धमकी भरा मैसेज

पुलिस की गठित टीम द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए बम ब्लास्ट की धमकी देने वाले मुलजिम मौहम्मद उर्फ मौहम्मद कैफ को महज दो घंटे मे गिरफ्तार कर लिया। जिसकी तलाशी में मिले मोबाईल फोन को चैक किया तो मोबाइल की फोटो गैलरी में ब्लास्ट इज बैक व ब्लास्ट करने की धमकी भरा मैसेज विवरण का स्क्रीन शॉट फोटो मिले। स्क्रीन शॉट व मोबाइल की दोनों सिम व मोबाइल जप्त किया गया।

दूसरे के नाम से जारी सिम से भेजा था मैसेज

आरोपी मोहम्मद कैफ से कडाई से पूछताछ की गई तो सामने आया कि मौहम्मद कैफ अपने गांव छापर के बस स्टैण्ड पर स्थित हाजी जफरुद्दीन की मनी ट्रॉस्फर की दुकान पर काम करता था। हाजी जफरुद्दीन के कुछ दिन बाहर जाने पर पीछे से मौहम्मद कैफ ने दुकान के हिसाब-किताब में हेरा फेरी कर उन रूपयों को अपने काम में ले लिया। दुकान में रखी हिसाब किताब की डायरी को भी चुरा लिया था। दुकान मालिक हाजी जफरू 22 नवम्बर को वापस आने पर दुकान में किये गये काम का हिसाब करने हेतु मौहम्मद कैफ से कहा तो अपनी चोरी को छुपाने एंव सीसीटीवी कैमरे के बैकअप की अवधी का समय निकालने के लिए तथा दुकान मालिक का ध्यान भटकाने के लिए किसी अन्य व्यक्ति के नाम से जारी सिम से बम ब्लास्ट का यह मैसेज उच्च अधिकारियों के मोबाइल नबंर गुगल पर सर्च कर मैसेज व्हाटसप कर दिया।

हेराफेरी छुपाने के लिए किया ऐसा

आरोपित ने सोचा इस धमकी से पुलिस जांच शुरु हो जाये तब तक सीसीटीवी फुटेज का बैकअप का समय निकल जायेगा और बैकअप मे कैद हुई उसकी हेराफेरी व हिसाब किताब की डायरी की चोरी पकड़ी नहीं जा सकेगी।

हिन्दुस्थान समाचार/मनीष बावलिया/ ईश्वर

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story