"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

तमिलनाडु: 1.3 करोड़ लोगों ने अभी तक नहीं ली कोरोना टीके की पहली खुराक

चेन्नई, 26 नवंबर (आईएएनएस)। तमिलनाडु में अभी तक 1,38,74,726 लोगों ने कोरोनावायरस के टीके की पहली खुराक नहीं ली है, जबकि अन्य 73,46,363 लोगों को कोरोना का दूसरा टीका लगाया जाना है। ये जानकारी तमिलनाडु के स्वास्थ्य विभाग ने साझा की।
  
तमिलनाडु: 1.3 करोड़ लोगों ने अभी तक नहीं ली कोरोना टीके की पहली खुराक
तमिलनाडु: 1.3 करोड़ लोगों ने अभी तक नहीं ली कोरोना टीके की पहली खुराक चेन्नई, 26 नवंबर (आईएएनएस)। तमिलनाडु में अभी तक 1,38,74,726 लोगों ने कोरोनावायरस के टीके की पहली खुराक नहीं ली है, जबकि अन्य 73,46,363 लोगों को कोरोना का दूसरा टीका लगाया जाना है। ये जानकारी तमिलनाडु के स्वास्थ्य विभाग ने साझा की।

राज्य के स्वास्थ्य सचिव जे राधाकृष्णन ने कहा कि राज्य ने अगस्त, सितंबर और अक्टूबर में कोरोना वायरस से तकरीबन 2,011 मौतें दर्ज की।

उन्होंने कहा कि वैक्सीन लेने वाले केवल 5 फीसदी लोगों की मौत हुई है, जबकि वैक्सीन नहीं लेने वाले या सिर्फ पहली खुराक लेने वाले 95 फीसदी लोगों की मौत हुई है।

स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि टीकाकरण के बाद भी कम से कम 109 लोगों की मौत हो गई या 5 प्रतिशत मुख्य रूप से सह-रुग्णता और उपचार में देरी के कारण हुए।

डेटा के अनुसार, कोरोना वायरस से मरने वाले 95 प्रतिशत लोगों में से 84 प्रतिशत या 1,675 मौतें उन लोगों में दर्ज की गईं, जिन्होंने टीके की पहली खुराक तक नहीं ली है, जबकि 11 प्रतिशत (227) ने पहली खुराक ली थीं।

उन्होंने जोर देकर कहा कि लोगों को इसके बारे में बताया जाए कि टीके कोरोनावायरस के खिलाफ जीवन रक्षक हैं और सभी पात्र लोगों से इसका फायदा उठाने का आग्रह किया।

राधाकृष्णन ने कहा, स्वास्थ्य के आंकड़ों के अनुसार, कोरोनावायरस के कारण एक असंक्रमित व्यक्ति की मौत का जोखिम एक टीकाकृत व्यक्ति की तुलना में 3.5 गुना ज्यादा है। यह हमारे पास उपलब्ध पर्याप्त सबूतों में से एक है जो एक आम आदमी को टीकाकरण का महत्व और जल्द से जल्द टीके लेने की आवश्यकता को समझने में मदद करेगा।

उन्होंने कहा कि राज्य के पास पर्याप्त मात्रा में टीके उपलब्ध हैं। केरल की सीमा से लगे सभी जिलों को सतर्क रहने की जरूरत है क्योंकि दोनों राज्यों के लोगों बीच लगातार यात्रा और आवाजाही जारी है।

तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री, मा सुब्रमण्यम ने आईएएनएस को बताया, स्वास्थ्य सचिव ने सभी जिला कलेक्टरों को निर्देश दिया है कि वे लोगों को कोरोना के खिलाफ टीकाकरण के महत्व के बारे में जागरूक करें। संक्रमण के कारण असंक्रमित लोगों की मौत उन लोगों की तुलना में 3.5 गुना अधिक हुई है, जिन्होंने टीकाकरण किया है। हमने जिला कलेक्टरों से कहा है कि वे इस डेटा को जमीनी स्तर तक लोगों तक पहुंचाएं और उनसे इस पर काम करने की अपील करें। हमारे पास पर्याप्त मात्रा में टीके हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि यह देखने के बाद कि कोरोना मामले कम हो रहे हैं। राज्य के कुछ क्षेत्रों में लोगों ने अपने गार्ड को छोड़ दिया है और चेतावनी दी है कि इसके गंभीर परिणाम होंगे और राज्य के लोगों से प्रोटोकॉल का पालन करने का आग्रह किया।

--आईएएनएस

एसएस/आरजेएस

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story