"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

हैदराबाद से महाराष्ट्र जा रहे ट्रक से 1,820 किलो गांजा जब्त

हैदराबाद, 26 नवंबर (आईएएनएस)। तेलंगाना पुलिस ने गुरुवार को हैदराबाद के बाहरी इलाके अब्दुल्लापुरमेट में एक ट्रक से 1,820 किलोग्राम गांजा जब्त कर एक और अंतर्राज्यीय मादक पदार्थ तस्करी रैकेट का भंडाफोड़ किया।
  
हैदराबाद से महाराष्ट्र जा रहे ट्रक से 1,820 किलो गांजा जब्त
हैदराबाद से महाराष्ट्र जा रहे ट्रक से 1,820 किलो गांजा जब्त हैदराबाद, 26 नवंबर (आईएएनएस)। तेलंगाना पुलिस ने गुरुवार को हैदराबाद के बाहरी इलाके अब्दुल्लापुरमेट में एक ट्रक से 1,820 किलोग्राम गांजा जब्त कर एक और अंतर्राज्यीय मादक पदार्थ तस्करी रैकेट का भंडाफोड़ किया।

राचकोंडा पुलिस आयुक्तालय के विशेष अभियान दल (एसओटी) ने पांच पेडलर्स को गिरफ्तार किया और आंध्र प्रदेश के सिलेरू से महाराष्ट्र ले जा रहे प्रतिबंधित पदार्थ को जब्त कर लिया।

पुलिस के अनुसार, गांजा सिलेरू से नरसीपट्टनम, राजमुंदरी, कोडाद, सूर्यपेट, चौतुप्पल और हैदराबाद होते हुए महाराष्ट्र ले जाया जा रहा था।

पुलिस ने उनके पास से 182 पैकेट गांजा, एक लॉरी, एक कार, 41,000 रुपये नकद और सात मोबाइल फोन बरामद किए हैं, जिनकी कीमत 3 करोड़ रुपये से अधिक है।

विशेष सूचना पर कार्रवाई करते हुए एसओटी, एलबी नगर जोन के अधिकारियों ने अब्दुल्लापुरमेट पुलिस के साथ मिलकर ड्रग तस्करों को पकड़ लिया। इनमें से चार महाराष्ट्र के हैं, जबकि ट्रक चालक पश्चिम बंगाल का रहने वाला है।

महाराष्ट्र के उस्मानाबाद जिले का रहने वाला मुख्य आरोपी संजय लक्ष्मण शिंदे फरार है। वह अपने रिश्तेदारों संजय बालाजी काले, अभिमन कल्याण पवार और उनके दोस्तों संजय चौगुले और भरत कलाप्पा के साथ रैकेट चला रहा था। वे आंध्र प्रदेश के सिलेरू एजेंसी क्षेत्र से गांजा को अवैध रूप से महाराष्ट्र ले जाने के लिए ट्रक चलाने के लिए पश्चिम बंगाल के मूल निवासी शेक राहिदुल का इस्तेमाल कर रहे थे।

राचाकोंडा के पुलिस आयुक्त महेश भागवत ने कहा कि गांजा के पैकेट जैविक खाद की थैलियों के नीचे छिपे थे। उन्होंने कहा कि आरोपी कार का इस्तेमाल नशीले पदार्थो को ले जा रहे ट्रक के लिए पायलट वाहन के रूप में कर रहे थे।

आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वे 8,000 रुपये प्रति किलो के हिसाब से गांजा खरीद रहे थे और उसे महाराष्ट्र में ग्राहकों को 15,000 रुपये प्रति किलो के हिसाब से बेच रहे थे।

उन्होंने कहा कि राचकोंडा में इस साल अब तक बरामद गांजे की यह सबसे बड़ी मात्रा है। पुलिस ने पांच हजार किलो से अधिक मादक पदार्थ जब्त किया है।

हैदराबाद, साइबराबाद और राचकोंडा पुलिस आयुक्तालय, जो शहर और उसके उपनगरों और आबकारी विभाग को कवर करते हैं, पिछले महीने से मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के इस खतरे से सख्ती से निपटने के निर्देश के बाद ड्रग्स के खिलाफ गहन अभियान चला रहे हैं।

--आईएएनएस

एसजीके

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story