"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

भाजपा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर लड़ रही चुनाव, इनके पास न तो मुद्दे हैं और न ही दिल्ली में कोई नेता : गोपाल राय

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी (आप) के दिल्ली संयोजक गोपाल राय ने मुख्यमंत्री का उम्मीदवार न घोषित करने को लेकर भाजपा पर ताजा हमला बोला है और कहा है कि भगवा पार्टी के पास न तो कोई चेहरा है और न ही अरविंद केजरीवाल का सामना करने की हिम्मत है। राय ने कहा कि
  

भाजपा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर लड़ रही चुनाव, इनके पास न तो मुद्दे हैं और न ही दिल्ली में कोई नेता : गोपाल राय

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी (आप) के दिल्ली संयोजक गोपाल राय ने मुख्यमंत्री का उम्मीदवार न घोषित करने को लेकर भाजपा पर ताजा हमला बोला है और कहा है कि भगवा पार्टी के पास न तो कोई चेहरा है और न ही अरविंद केजरीवाल का सामना करने की हिम्मत है।

राय ने कहा कि भाजपा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर चुनाव लड़ रही है, जो दिल्ली के मुख्यमंत्री नहीं बनेंगे।

राय ने कहा, “उनके पास न तो मुद्दे हैं और न ही दिल्ली में कोई नेता है। उनके पास चुनाव के लिए कोई नेतृत्व नहीं है। उनके पास कोई नेता नहीं है जो चुनाव का नेतृत्व कर सकता है और मुख्यमंत्री उम्मीदवार का खुलासा नहीं करने के कारणों में से एक यह है कि उन्हें यह भी भरोसा नहीं है कि वे सरकार बनाएंगे।”

अरविंद केजरीवाल सरकार की कैबिनेट में मंत्री राय ने कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम के मुद्दे पर आप का रुख पहले दिन से स्पष्ट है।

राय ने कहा, “पार्टी का रुख पहले दिन से स्पष्ट है। अगर कोई भ्रम है, तो यह पार्टी की ओर से नहीं है। यह सिर्फ एक गैर-जरूरी मुद्दा है। लोगों और राष्ट्र के सामने मुद्दा रोजगार और व्यापार का है। लोग विकास के लिए संघर्ष कर रहे हैं। समाधान देने के बजाय, केंद्र सरकार ने इस पर से ध्यान हटाया है। वे लोगों का ध्यान बांटे रखना चाहते हैं और इसलिए वे मुख्य मुद्दों के अलावा अन्य चीजों पर चर्चा करते रहते हैं।”

बाबरपुर से विधायक राय ने कहा कि आप ने संसद के दोनों सदनों में सीएए पर अपना रुख स्पष्ट कर दिया है। उन्होंने दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए कहा कि भाजपा को कोई मुद्दा नहीं मिल रहा है और इसलिए “जानबूझकर ध्यान हटाने की कोशिश कर रही है। लेकिन दिल्ली के लोग अब विकास के लिए वोट करेंगे।”

राय ने कहा कि आठ फरवरी के विधानसभा चुनाव में काम का बोलबाला होगा। उन्होंने कहा कि भाजपा लोगों का ध्यान हटाने की असफल कोशिश कर रही है।

आप द्वारा टिकट वितरण और 15 मौजूदा विधायकों को टिकट नहीं देने पर राय ने कहा कि पार्टी ने यह फैसला विधायक का काम, जनता में धारणा और सितंबर से प्रचार अभियान में भूमिका जैसे तीन आधार पर लिया है।

उन्होंने कहा, “भले ही उन्हें टिकट नहीं दिया गया है, पार्टी अभी भी उनके संपर्क में है। उनमें से अधिकांश पार्टी के साथ हैं।”

उन्होंने चुनाव के बाद गठबंधन की किसी भी संभावना को खारिज करते हुए कहा, “110 प्रतिशत हम अपने दम पर सरकार बना रहे हैं। कोई गठबंधन नहीं होगा। हम इस बार 67 से अधिक सीटें जीतने की उम्मीद कर रहे हैं।”

राय ने कहा कि आप के स्वयंसेवक ही नहीं, बल्कि दिल्ली का आम आदमी भी दिल्ली विधानसभा चुनाव में आप के लिए प्रचार कर रहा है।

उन्होंने कहा, “पिछली बार जब स्वयंसेवक वोट मांग रहे थे, तो इस बार आम आदमी आप के लिए वोट मांग रहा है। आप उन्हें हमारे स्वयंसेवकों की उपस्थिति के बावजूद शहर की सभी गलियों में आप के लिए चुनाव प्रचार करते देख सकते हैं।”

राय ने कहा कि पार्टी सकारात्मक अभियान चला रही है और लोग इसकी सराहना कर रहे हैं।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story