'भाभीजी पापड़' से कोई भी ठीक नहीं हुआ: शिवसेना का केंद्र पर
'भाभीजी पापड़' से कोई भी ठीक नहीं हुआ: शिवसेना का केंद्र पर
'भाभीजी पापड़' से कोई भी ठीक नहीं हुआ: शिवसेना का केंद्र पर
'भाभीजी पापड़' से कोई भी ठीक नहीं हुआ: शिवसेना का केंद्र पर

"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

शिवसेना का केंद्र पर हमला, 'भाभीजी पापड़' से कोई भी ठीक नहीं हुआ 

  

नई दिल्ली : केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल पर कटाक्ष करते हुए शिवसेना सांसद संजय राउत ने गुरुवार को राज्यसभा में कहा है कि महाराष्ट्र ने महामारी को नियंत्रित करने में अच्छा काम किया है और कोई भी पापड़ खाने से ठीक नहीं हुआ है।

जुलाई में मेघवाल ने कोरोना वायरस संक्रमण से लड़ने के लिए भाभीजी पापड़ को प्रमोट किया था और दावा किया था कि यह ऐसी सामग्री से बनाया गया है जो कोविड-19 के खिलाफ एंटीबॉडी बनाने में मदद करता है।

राउत ने मेघवाल पर हमला करते हुए कहा, महाराष्ट्र ने संक्रमण को सक्रिय रूप से नियंत्रित किया है और देश का सबसे बड़ा स्लम धारावी इसका सबसे अच्छा उदाहरण है। कई मंत्री संक्रमित हुए हैं, एक पूर्व क्रिकेटर-मंत्री चेतन चौहान की मौत हो गई है। इस मुद्दे पर आरोप-प्रत्यारोप न करें। इस महामारी से हमें मिलकर लड़ना चाहिए।

देश में कोविड -19 की स्थिति पर हो रही बहस में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता प्रफुल्ल पटेल ने कहा कि राज्य को अवांछित रूप से निशाना बनाया जा रहा है जबकि यह एक साथ लड़ने का समय है।

सरकार पर विपक्ष का ये हमला उस टिप्पणी के बाद शुरू हुआ है जो भाजपा सांसद विनय सहस्त्रबुद्धे ने महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा कोविड मामले होने को लेकर की थी।

कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने बुधवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के उस बयान पर चर्चा शुरू की थी। जिसमें कहा गया था कि देश में किए गए लॉकडाउन ने 14 से 29 लाख मामले और 37 से 78 हजार मौतें रोकी हैं। शर्मा ने इन आंकड़ों के पीछे का वैज्ञानिक आधार पूछा था।

इस पर सांसद सहस्त्रबुद्धे ने महाराष्ट्र को लेकर टिप्पणी की थी।

Share this story