"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

कानपुर में बढ़ रहे कोरोना केस देख जिलाधिकारी ने लगाया रात्रि कर्फ्यू, 30 तक 12वीं के स्कूल बन्द

  

कानपुर में कोरोना का बढ़ रहा दायरा, रात्रि का लगा कर्फ्यू

कानपुर, 08 अप्रैल (हि.स.)। कोरोना के केस जनपद में एक बार फिर से तेजी से बढ़ रहे हैं। इसको लेकर मुख्यमंत्री ने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक की और सुनिश्चित किया कि आठ अप्रैल की रात्रि 10:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक कर्फ्यू लगा दिया जाए। ऐसे में अब कानपुर में रात्रि कर्फ्यू लगाने का निर्णय जिलाधिकारी ने लिया है। यह 30 अप्रैल तक  लागू रहेगा।

जनपद में खास तौर पर शहरी इलाके में बीते एक सप्ताह से कोरोना का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है, हालांकि स्वास्थ्य विभाग बराबर लोगों की जांच भी करा रहा है। इसके साथ ही कोरोना का टीकाकरण भी हो रहा है। इन सबके बीच कोरोना के बढ़ते मरीजों को लेकर प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग चिंतित हो गया है। इसको लेकर देर शाम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आलाधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कानपुर नगर जनपद की जानकारी ली। आलाधिकारियों ने कोरोना की यथा स्थित से अवगत कराया। इस पर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि कोरोना के संक्रमण की रोकथाम के लिए जो भी स्थानीय स्तर पर प्रयास संभव हो सकें, उन सभी को करना है।

मुख्यमंत्री की बैठक के बाद जिलाधिकारी आलोक तिवारी ने संबंधित प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक की और यह सुनिश्चित किया गया कि आठ अप्रैल की रात्रि 10:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक रात्रि कालीन कर्फ्यू 30 अप्रैल तक शहर में लागू कर दिया गया जाए। जिलाधिकारी ने बताया कि महानगर में कोरोना वायरस संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है। ऐसे में यह जरूरी हो गया है की कड़ाई का पालन किया जाए। इसको देखते हुए फिलहाल यह निर्णय लिया गया है कि 30 अप्रैल तक जनपद में रात्रि कालीन कर्फ्यू लागू कर दिया जा रहा है। 

इसके साथ ही जिन विद्यालयों की प्रायोगिक परीक्षाएं व अन्य परीक्षाएं चल रहीं हैं उनको छोड़कर किसी भी प्रकार का कोई भी विद्यालय 12वीं तक शिक्षण कार्य नहीं कराएंगे। जिलाधिकारी ने बताया की रात्रि में सिर्फ आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को ही छूट मिलेगी। यह कर्फ्यू फिलहाल 30 अप्रैल तक प्रभावी रहेगा, हालांकि इस दौरान कोई शासनादेश होता है तो विचार भी किया जा सकता है। लेकिन अभी आगामी दिनों के लिए जो भी निर्णय लेना होगा वह परिस्थितियों के अनुसार लिया  जाएगा। फिलहाल पहली प्राथमिकता है कि जनपद में कोरोना वायरस पर कैसे अंकुश लगाया जाए। रात्रि कालीन कर्फ्यू के दौरान जो भी व्यक्ति अनावश्यक घूमता हुआ पाया जाएगा उसके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।

हिन्दुस्थान समाचार / महमूद

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story