"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×
doon Horizon

अनूपपुर: अमरकंटक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र उन्नयन को मिली हरी झंडी

  
अनूपपुर: अमरकंटक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र उन्नयन को मिली हरी झंडी


अनूपपुर, 26 नवंबर (हि.स.)। पर्यटन और धार्मिक स्थली के रूप में शामिल अनूपपुर पवित्र नगरी अमरकंटक में संचालित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र उन्नयन के लिए पूर्व में प्रशासन द्वारा भेजे गए प्रस्ताव पर शासन ने हरी झंडी दे दी है। जहां शासन ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के निर्माण के लिए प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान किया है।

आयुक्त स्वास्थ्य विभाग भोपाल द्वारा 16 नवम्बर को पीडी डायरेक्टर पीआईयू पीडब्ल्यूडी विभाग को भेजे गए पत्र में अमरकंटक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के रूप में उन्नयन और 6 बिस्तर से अलग 30 बिस्तरो के स्वास्थ्य केन्द्र स्थापित करने निर्देश दिए हैं। जिसमें पीडी डायरेक्टर पीआईयू पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा अनूपपुर पीआइयू को पत्र जारी करते हुए जल्द ही भूमि आवंटन और भवन निर्माण कार्य आरम्भ करने निर्देशित किया है।

कलेक्टर सोनिया मीणा ने बताया कि जिले में वर्तमान में जिला चिकित्साऔलय सहित 8 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र और 18 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र है। लेकिन हाल के दिनों में कोरोना महामारी के दौर स्थानीय जरूरतों में कम पड़ते संसाधनों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग की मांग पर तीन प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों बिजुरी, अमरकंटक और बेनीबारी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों का उन्नयन सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रूप किए जाने के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया था। जिसमें अमरकंटक को पर्यटन स्थल और सुदूर क्षेत्रीय अंचल की प्राथमिकता में रखते हुए शासन द्वारा इसके उन्नयन के प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की है। वर्तमान में यहां 6 बिस्तर वाला प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र हैं। लेकिन अमरकंटक में पर्यटन को बढ़ावा देने शासन द्वारा लगातार किए जा रहे विकास कार्य के प्रयास और बढ़ रहे पर्यटकों को देखते हुए अब यहां सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की आवश्यकता को महसूस किया जा रहा था। इसके लिए राजस्व विभाग से जमीन का चिह्नांकन कार्य कराते हुए प्राक्कलन के अनुरूप कार्य कराने का कार्य जल्द ही आरम्भ किया जाएगा। इसके अलावा बिजुरी में भी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की आवश्यकता है, इसे भी जल्द सीएचसी उन्नयन के लिए फिर से पत्राचार किए जाएंगे।

573.81 लाख की दो मंजिला भवन की तैयारी

पीआईयू कार्यपालन यंत्री अविनाश श्रीवास्तव ने बताया कि प्रशासकीय स्वीकृति के बाद अब विभाग द्वारा सीएमएचओ अनूपपुर को पत्राचार करते हुए जमीन की उपलब्धता की डिमांड की जाएगी। जिसमें कलेक्टर द्वारा राजस्व विभाग से आवंटित भूमि पर नवीन भवन की आधारशिला रखी जाएगी। कार्यपालन यंत्री ने बताया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के लिए दो मंजिला भवन प्रस्तावित है, इसके लिए कम से कम 100/100 मीटर प्लॉट की आवश्यकता होगी, जिसमें चिकित्सालय के साथ साथ आवासीय परिसर भी बनाए जाएंगे। चिकित्सालय 30 बिस्तरों का तैयार किया जाएगा। इसके लिए शासन ने 573.81 लाख रूपए स्वीकृत किया है।

टेंडर के उपरांत 18 माह में भवन निर्माण की रणनीति

पीआईयू एसडीओ पीके लारिया ने बताया कि 1-2 सप्ताह के भीतर अब प्राक्कलन तैयार करते हुए तकनीकि स्वीकृति प्रदान कराया जाएगा, जिसमें स्वीकृति प्रदान होते हुए टेंडर की प्रक्रिया अपनाते हुए प्रावधानों के अनुरूप 18 माह के भीतर कार्य को शीघ्र पूरा कराने का प्रयास होगा। चूंकि स्वास्थ्य कार्य का मामला है, जिसमें विलंबता नहीं होगी।

कलेक्टर सोनिया मीणा ने बताया कि अमरकंटक पीएचसी को सीएचसी उन्नयन कराने पूर्व में प्रस्ताव भेजे गए थे, अब प्रशासकीय स्वीकृति मिल चुकी है। जल्द ही राजस्व विभाग से जमीन चिह्निंत और सीमांकन करने की कार्रवाई कराते हुए भवन निर्माण का कार्य आरम्भ कराया जाएगा।

हिन्दुस्थान समाचार/ राजेश शुक्ला

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story