"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×
doon Horizon

पराली वेस्ट नहीं, वेल्थ है, समुचित प्रबंधन करायें : जिलाधिकारी

  
पराली वेस्ट नहीं, वेल्थ है, समुचित प्रबंधन करायें : जिलाधिकारी


जिलाधिकारी बैठक करते हुए


बगहा, 26 नवम्बर(हि.स.)। जिलाधिकारी कुंदन कुमार ने कहा है कि पराली वेस्ट नहीं, वेल्थ है। पराली का समुचित प्रबंधन किया जाये। कृषकों को इसके लिए जागरूक एवं प्रेरित किया जाय। उन्हें बताया कि फसल अवशेष खेतों में जलाने से नुकसान ही नुकसान है। कृषक फसल अवशेष का सदुपयोग करें, खेतों में नहीं जलायें। किसानों को फसल अवशेष प्रबंधन से संबंधित यंत्रों यथा-कम्बाईन हार्वेस्टर, एसएमएस, स्टॉबेलर आदि के बारे में जानकारी प्रदान करें। जिलाधिकारी कार्यालय प्रकोष्ठ में कृषि विभाग के विभिन्न कार्यों की समीक्षा के दौरान अधिकारियों को आज निदेशित कर रहे थे।डीएपी सहित अन्य उर्वरकों की उपलब्धता की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने निदेश दिया कि उक्त उर्वरकों की किसी भी सूरत में कालाबाजारी नहीं होनी चाहिए, इसका विशेष ध्यान रखें। साथ ही डीएपी उर्वरक के अन्य विकल्पों का प्रचार-प्रसार करायें, जो डीएपी की भांति ही कारगर होते हैं।

जिलाधिकारी ने कहा कि रबी मौसम के लिए बीज वितरण कार्य सहित अन्य योजनाओं के क्रियान्वयन में पूरी तरह से जीरो टॉलरेंस नीति का अनुपालन किया जाये। किसी भी प्रकार की अनियमितता एवं गड़बड़ी की शिकायत पर तुरंत जांच करायी जायेगी तथा दोषियों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने कहा कि कृषि विभाग द्वारा जारी निदेश के आलोक में कम्बाईन हार्वेस्टर संचालकों से इस आशय का शपथ लेना है कि धान की कटनी के उपरांत कृषकों को फसल अवशेष खेतों में जलाने से रोकेंगे। साथ ही अपने-अपने कम्बाईन हार्वेस्टर के साथ एसएमएस मशीन को निश्चित रूप से लगायेंगे, सख्ती के साथ अनुपालन करें। जो कम्बाईन हार्वेस्टर संचालक उक्त आशय का शपथ पत्र नहीं देते हैं अथवा एसएमएस मशीन तीन महीने के अंदर हार्वेस्टर में नहीं लगाते हैं, उनको चिन्हित करते हुए कार्रवाई सुनिश्चित किया जाये।

जिला कृषि पदाधिकारी ने बताया कि रबी मौसम के लिए विभिन्न प्रकार के उर्वरकों की जिले में उपलब्धता बनाये रखने के लिए कार्रवाई की जा रही है। साथ ही किसानों के बीच विभिन्न माध्यमों से उर्वरक का संतुलित उपयोग करने के लिए प्रचार-प्रसार कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि रबी फसलों में अबतक 937.76 क्विंटल बीज वितरण कराया जा चुका है तथा यह कार्य जीरो टॉलरेंस नीति के तहत जारी है। मौके पर उप विकास आयुक्त अनिल कुमार, जिला कृषि पदाधिकारी, विजय प्रकाश सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

हिन्दुस्थान समाचार /अरविंद /चंदा

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story