"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

प्रेम नगर हत्याकांड में मुख्य आरोपी साथी के साथ पकड़ा

  
प्रेम नगर हत्याकांड में मुख्य आरोपी साथी के साथ पकड़ा

नई दिल्ली, 04 मई (हि.स.)। प्रेम नगर इलाके में  बीते रविवार को एक व्यक्ति को चाकू घोपकर निर्मम हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने वारदात को अंजाम देने वाले मुकेह आरोपी और उसके साथी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों की पहचान जितेंद्र उर्फ जीतू और देशराज उर्फ  देशु के  रूप में हुई है। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल चाकू भी जब्त कर लिया है।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि  बीते रविवार को प्रेम नगर पुलिस को  इंदर एन्क्लेव फेज 2 इलाके में एक युवक को चाकू मारने की जानकारी मिली। पुलिस  मौके पर पहुँची। युवक खून से लथपथ हालात में  सड़क पर पड़ा हुआ था।  जिसे तुरंत संजय गांधी अस्पताल में भर्ती करवाया गया।  डॉक्टरों ने उसकी हालत गंभीर बताई।  जिसकी पहचान इलाके में रहने वाले रामरतन  के रूप में हुई। वह ब्रेड बेचने का काम करता था। पुलिस ने वारदात की जानकारी उसके परिवार को दी। पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ हत्या की कोशिश का मामला दर्ज किया।

एसएचओ राजीव रंजन की देखरेख में पुलिस टीम को आरोपियों को पकड़ने का जिम्मा सौंपा गया।  पुलिस ने वारदात के।आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटजे कब्जे में ली।   इस बीच पता चला कि अस्पताल में रामरतन की मौत हो गई है। पुलिस ने हत्या की कोशिश का मामला हत्या में तब्दील कर दिया। शुरुआती जांच मे पता चला कि रामरतन ब्रेड बेचने का काम किया करता था। उसका  इलाके में रहने वाले जितेंद्र से किसी बात को लेकर झगड़ा चल रहा था। वारदात वाले दिन वह हर रोज की तरह से सुबह ब्रेड सप्लाई करने जा रहा था। अचानक तीन युवकों ने उसपर घात लगाकर चाकू से वार कर दिया था। वारदात के बाद आरोपी फरार हो गए थे।  आरोपियों में जितेंद्र भी शामिल था। पुलिस ने जितेंद्र के घर छापेमारी की,लेकिन जितेंद्र नही मिला। परिवार से भी उसके बारे में कुछ ज्यादा नही पता चला। पुलिस ने उसका फ़ोन भी ट्रेसिंग पर लगाकर उसकी लोकेशेन पता कटने की कोशिश की। इस बीच पैसा ने जितेंद्र को गिरफ्तार कर लिया। उसकी निशानदेही पर देशराज को भी पकड़ लिया।

जितेन्द्र से पूछताछ करने पर पता चला कि वह पिछले साल ब्रेड  बेचने का काम कर रहा था,लवकिं कोरोना की वजह से उसे काफी घाटा जो गया था। उसके कई दुकानदार भी टूट गए थे। जबकि रामरतन उन दुकानदारों को ब्रेड सप्लाई करने लगा था। जितेंद्र उसकव ऐसा करने से मना किया करता था। इसी बात को लेकर जितेंद्र और रामरतन में ठन गई थी। वारदात वाले दिन जितेंद्र अपने दोस्त के साथ घात लगाकर बैठा हुआ था। जब उसने दुकान के बाहर रामरतन को देखा।उसपर चाकू से जानलेवा हमला कर फरार हो गया था।

हिन्दुस्थान समाचार/ अश्वीनी

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story