"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×
doon Horizon

पुलिस हेडक्वार्टर में पुलिसकर्मियों ने ली मद्य निषेध की शपथ

  
पुलिस हेडक्वार्टर में पुलिसकर्मियों ने ली मद्य निषेध की शपथ


पटना, 26 नवंबर (हि.स.)। बिहार में शराबबंदी के पांच साल बाद दोबारा शराबबंदी कानून को और प्रभावी बनाने और सख्ती से पालन के लिए आज डीजीपी एस के सिंघल ने बिहार पुलिस हेडक्वार्टर में भी पुलिस कर्मियों को शपथ दिलाई। डीजीपी एसके सिंघल ने पुलिस कर्मियों को चेताया कि शराबबंदी कानून का उल्लंघन करने वाले पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई कर बर्खास्त किया जाएगा । शराबबंदी कानून लागू करने के लिए पुलिस विभाग प्रतिबद्ध है।

उन्होंने कहा कि इतने वर्षों में बिहार में शराबबंदी के सकारात्मक परिणाम आए हैं लेकिन हम शराबबंदी के साथ नशा के दूसरे साधन की तरफ बढ़ रहे हैं। ये राज्य के विकास में सही नहीं है। हम पूरी तरीके से नशा उन्मूलन करना चाहते हैं। पुलिसकर्मी इसमें सम्मिलित पाए जाएंगे तो उन्हें नौकरी से बर्खास्त किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पुलिस और समाज के लोगों को सम्मिलित कर इस अभियान को सफल बनाने की जरूरत है।

बिहार के मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण ने बताया है कि मद्य निषेध के प्रति चेतना जागृत करने के लिए वर्ष 2016 में राज्य सरकार के सभी कर्मियों को आजीवन शराब का सेवन नहीं करने और दूसरे को भी शराब नहीं सेवन करने के लिए प्रेरित करने के लिए शपथ दिलायी गयी थी। इसी के तहत मद्य निषेध समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश ने कहा था कि इस साल भी नशा मुक्ति दिवस पर सरकारी कर्मियों को शपथ दिलाई जाए। सीएम के आदेश के बाद आज पूरे राज्य के सभी सरकारी कर्मचारियों को शपथ शराबबंदी को बिहार में पूर्ण रूप से लागू कराने के लिए शपथ दिलाई जा रही है।

हिन्दुस्थान समाचार/चंदा

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story