"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

कांग्रेस और पैंथर्स पार्टी सहित अन्य ने जगमोहन के निधन पर शोक जताया

  
कांग्रेस और पैंथर्स पार्टी सहित अन्य ने जगमोहन के निधन पर शोक जताया



जम्मू, 04 मई (हि.स.)। प्रदेश कांग्रेस कमेटी और जम्मू-कश्मीर नेशनल पैंथर्स पार्टी सहित अन्य कई नेताओं ने जम्मू व कश्मीर राज्य के पूर्व राज्यपाल जगमोहन के निधन पर मंगलवार को गहरा शोक व्यक्त किया।
पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं की ओर से एक शोक संदेश में, जेकेपीसीसी के मुख्य प्रवक्ता रविन्द्र शर्मा ने कहा है कि जगमोहन ने अपने सार्वजनिक जीवन के दौरान विशेष रूप से राज्यपाल के रूप में देश और जम्मू-कश्मीर के लिए मूल्यवान सेवाएं प्रदान की हैं। वह एक सक्षम प्रशासक थे जिन्होंने पहले कठोरता के साथ भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाया और अपने कार्यकाल में एक कुशल और लोगों के अनुकूल प्रशासन दिया। उन्होंने लोगों की वास्तविक शिकायतों का त्वरित निवारण सुनिश्चित किया और प्रशासन को जवाबदेह और उत्तरदायी बनाया।
उनकी सेवाओं को आने वाले लंबे समय के लिए याद किया जाएगा और आम लोगों के बीच उनका हमेशा सम्मान रहेगा। पार्टी ने उनकी मृत्यु पर शोक व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करने की प्रार्थना की।
वहीं पैंथर्स पार्टी ने एक शोक सभा आयोजित की जिसमें जम्मू-कश्मीर नेशनल पैंथर्स पार्टी के अध्यक्ष व वरिष्ठ अधिवक्ता प्रो. भीम सिंह ने अपने शोक संदेश में महान प्रशासक, ईमानदार व लेखक जगमोहन के निधन पर गहरा दुख प्रकट किया। उन्होंने कहा कि वे उनके राजनीतिक शिक्षकों में से एक थे, जिनसे उन्होंने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों से व्यवहार करना सीखा।
पैंथर्स अध्यक्ष ने जगमोहन के परिवार व इंडिया इंटरनेशनल सेंटर, नई दिल्ली में उनके सभी प्रशंसकों व सहयोगियों के प्रति अपने शोक संदेश में कहा कि जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक स्थिति से संबंधित उनकी पुस्तक, ‘माई फरोजन टरबूलेंस इन कश्मीर‘ जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक उथलपुथल को समझने के लिए पढ़ने लायक है। जगमोहन ने जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक स्थिति का निदान किया था। उन्होंने उम्मीद जताई कि जो लोग जम्मू-कश्मीर के साथ सौदा करने का दावा कर रहे हैं, उन्हें इस पुस्तक, ‘माई फरोजन टरबूलेंस इन कश्मीर‘ को अवश्य पढ़ना चाहिए। यदि नई दिल्ली में शासकों ने जम्मू-कश्मीर पर जगमोहन की पुस्तकों का अध्ययन किया होता तो वे जम्मू-कश्मीर राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में परिवर्तित करके अपराध नहीं करते। पार्टी ने एक शोक प्रस्ताव में, महानतम प्रशासकों, विचारकों, लेखकों में से एक के निधन पर शोक व्यक्त किया, जिनके महान योगदान का संदेश भारत में राजनीति विज्ञान और इतिहास के छात्रों के लिए एक खजाना साबित होगा।
पैंथर्स पार्टी ने जगमोहन को एक अद्वितीय प्रशासक बताया, जिन्होंने लोकतांत्रिक और धर्मनिरपेक्ष  दृष्टिकोण के साथ अशांत स्थिति से निपटने में अहम भूमिका निभायी, चाहे वह गोवा में हो या दिल्ली में और जम्मू-कश्मीर के राजनीतिक इतिहास में एक यादगार पृष्ठ छोड़ दिया।
वहीं, हिंदूवादी नेता राजू चंदेल ने पूर्व  केंद्रीय मंत्री व जम्मू कश्मीर के अब तक के सबसे बेहतरीन पूर्व राज्यपाल जगमोहन के निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा कि स्वर्गीय जगमोहन ने जम्मू कश्मीर में अपने कार्यकाल के दौरान उल्लेखनीय कार्य किए जिसमें माता वैष्णो देवी साइन बोर्ड भी शामिल है। जगमोहन के रहते जम्मू कश्मीर में चारों ओर प्रगति हुई उनके कार्य को जम्मू कश्मीर प्रदेश कभी नहीं भुला सकता। उनके जाने से देश को बहुत बड़ी क्षति हुई है जो कभी पूरी नहीं हो सकती।
हिन्दुस्थान समाचार/अमरीक/बलवान

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story