"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

किराना दुकानें बंद की तो फल और सब्जी मंडी में उमड़ी लोगों की भीड़

  
किराना दुकानें बंद की तो फल और सब्जी मंडी में उमड़ी लोगों की भीड़
उज्जैन, 04 मई (हि.स.)। लोगों को हाथ जोड़कर कितना ही समझाया जाए कि घरों में रहना है, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है और संक्रमण की चेन ब्रेक करना है लेकिन लोग समझने को तैयार नहीं हैं। उन्हें तो भीड़ में जाने का बहाना चाहिए। प्रशासन ने किराना दुकानों को दी गई राहत निरस्त की तो आज सुबह लोगों की भीड़ सब्जी मंडी और फल मंडी पहुंच गई।

प्रशासन और पुलिस कोरोना की दूसरी लहर को ब्रेक करने का लगातार प्रयास कर रहे हैं। लेकिन जागरूकता की बातें करने वाले शहरी लोग कुछ समझने को तैयार नहीं हैं। ऐसा नहीं है कि शहरवासियों के लिए प्रशासन कुछ सोच नहीं रहा है। 9 अप्रैल से लगाए गए लॉकडाउन और कोरोना कर्फ्यू के बाद पिछले दिनों लोगों की सुविधा के लिए ही सुबह 4 घंटे किराना और ग्रोसरी की दुकानें खोलने का निर्णय लिया गया लेकिन शहर वासी अपने क्षेत्रों की दुकाने छोड़कर दूसरे क्षेत्र और प्रमुख बाजारों तक पहुंचने लगे। बाजार में भीड़ बढ़ गई। इस बीच एक चीज और सामने आई कि मक्सी रोड पर रहने वाले गोपाल मंदिर खरीदारी करने पहुंच रहे थे वह भी 100-200 रुपए का सामान लेने के लिए। हालात बिगड़ते देख प्रशासन ने तत्काल ही सोमवार शाम निर्णय ले लिया कि मंगलवार से किराना दुकानें भी नहीं खोली जाएंगी। अब किराना, सब्जी और फलों की होम डिलीवरी होगी।

मंगलवार सुबह सब्जी और फल मंडी को खोला गया था लेकिन लोग यहां भी पहुंच गए। कोई आधा किलो अंगूर मांग रहा था कोई एक तरबूज। मंडी में सब्जी और फल का व्यवसाय करने वालों को आने की अनुमति थी लेकिन शहर वासियों ने भीड़ इस कदर बढ़ा दी की चिमनगंज थाना पुलिस को पहुंचना पड़ा। पुलिस देखते ही लोग भागते दौड़ते नजर आने लगे। फल और सब्जी मंडी से ठेला भरकर निकल रहे व्यवसायियों को लोगों ने मंडी के बाहर रोक लिया था व्यवसाई जल्दी फल सब्जी बेचकर घर लौटने की फिराक में एक ही स्थान पर खड़े हो गए थे। पुलिस ने जहां लोगों को भगाया वहीं फल और सब्जी वालों को भी चलते फिरते व्यवसाय करने की हिदायत दी।



हिंदुस्थान समाचार/गजेंद्र सिंह तोमर


फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story