"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

जीतू पटवारी ने प्रदेश सरकार पर बोला बड़ा हमला, स्वास्थ्य मंत्री को ढूढक़र लाने वाले को 11 हजार के इनाम का एलान

  
जीतू पटवारी ने प्रदेश सरकार पर बोला बड़ा हमला, स्वास्थ्य मंत्री को ढूढक़र लाने वाले को 11 हजार के इनाम का एलान
भोपाल, 04 मई (हि.स.)। मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार झूठ पर झूठ बोले जा रही है, मुख्यमंत्री जी यह बताए कि पिछले एक साल से कोरोना महामारी में जनता जी रही है। पिछले दो माह से कोरोना संक्रमण से भयावह स्थिति है क्या प्रदेश में कोई ऐसा अस्पताल है जहाँ हर सुविधा उपलब्ध हो। यह कहना है प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष, मीडिया प्रभारी व पूर्व मंत्री जीतू पटवारी का। पटवारी ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण से मरने वालों का आंकड़ा दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है हाहाकार मचा हुआ है लेकिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रधानमंत्री की चापलूसी में व्यस्त हैं, अपनी कुर्सी बचाए रखने के लिए प्रधानमंत्री की हां में हां मिला रहे हैं और यहाँ प्रदेश की जनता मर रही है। हमें डरता हुआ मुख्यमंत्री नहीं लड़ता हुआ मुख्यमंत्री चाहिए।

पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि प्रदेश में सारी व्यवस्थाएं ध्वस्त हो चुकी हैं। लेकिन प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जिन्हें जतना ढूढ़ रही है उनका अतापता नहीं है जीतू पटवारी ने कहा कि राज्य के स्वास्थ्य मंत्री को ढूढक़र लाने वाले को वह 11 हजार का इनाम देंगे। जीतू पटवारी ने आरोप लगाया कि जीवन रक्षक रेमडेसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति को लेकर सरकार बड़े- बड़े दावे कर रही है, लेकिन यह न तो मरीज को मिल रही है और न ही अस्पताल को यह बीजेपी नेताओं और विधायकों के घर जा रही है। जहाँ से राशन की तरह इसका वितरण किया जा रहा है। यही कारण है कि इसकी काला बाजारी हो रही है। जीतू पटवारी ने कहा कि कांग्रेस श्रेय लेने की राजनीति नहीं करती और इस न ही इस मुश्किल समय में श्रेय लेने की राजनीति करना चाहिए जबकि भाजपा नेता श्रेय की राजनीति करने में व्यस्त है। जबकि इंदौर में कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला हो ग्वालियर में विधायक प्रवीण पाठक हो, जबलपुर में माननीय राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा हो, भोपाल में पूर्व मंत्री पीसी शर्मा व आरिफ मसूद हो, सांसद नकुल नाथ हो सभी कमल नाथ जी के नेतृत्व में कोरोना पीडि़तों की सहायता में निस्वार्थता से लगे है। 

जीतू पटवारी ने कहा कि पश्चिम बंगाल हो या प्रदेश की दमोह विधानसभा सीट यहाँ जनता ने बिके हुए लोगों को नाकार दिया है। लोकतंत्र की हत्या करने वालों को जनता पसंद नहीं कर रही जहाँ भी जनमत के खिलाफ आलोकतांत्रिक तरीके से बीजेपी ने सत्ता हथियाने की कोशिश की है वहाँ जनता ने इन चुनावों में उसे करारा जबाब दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार को कोरोना संक्रमण की भयावह स्थिति को देखते हुए अब ग्रामीण स्तर पर भी कोविड केयर सेंटर बनाना चाहिए और झूठे आंकड़े पेश करने से बचना चाहिए।

हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story