"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×
doon Horizon

रतलाम: जिले में 15 बच्चों को मिलेगा पीएम केयर फॉर चिल्ड्रन स्कीम का लाभ

  
रतलाम: जिले में 15 बच्चों को मिलेगा पीएम केयर फॉर चिल्ड्रन स्कीम का लाभ


रतलाम, 26 नवंबर (हि.स.)। जिले में पीएम केयर फॉर चिल्ड्रन स्कीम का लाभ देने के लिए पात्र 15 बच्चों का नाम पोर्टल पर दर्ज किया गया है। उनके कलेक्टर के साथ संयुक्त बैंक खाते भी खुलवाए गए हैं। कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम के निर्देशानुसार विभाग द्वारा तत्काल कार्रवाई की जाकर बच्चों को सूचीबद्ध कर के पोर्टल पर नाम दर्ज करवाया गया है और बैंक खाते खुलवाए हैं।

जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास रजनीश सिन्हा ने शुक्रवार को बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जिन बच्चों के माता-पिता या दत्तक माता-पिता या अभिभावक की मृत्यु 11 मार्च 2020 के बाद कोविड-19 के कारण हुई हो एवं उनकी आयु 18 वर्ष से कम हो, उनके लिए पीएम केयर फॉर चिल्ड्रन स्कीम को लागू किया गया है।

उन्होंने बताया कि योजना अंतर्गत बच्चों के 18 साल पूरे होने पर बच्चों के नाम से 10 लाख रुपए कार्पस फंड का प्रावधान किया गया है। कार्पस फंड से मासिक आर्थिक सहायता या स्टाय फंड देने का प्रावधान किया गया है। बच्चों की आयु 23 वर्ष पूर्ण होने पर एकमुश्त 10 लाख रुपये राशि का भुगतान किया जाएगा। इसके साथ ही आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा कवर भी दिया जाएगा।

10 वर्ष तक बाल हितग्राही को नजदीकी केंद्रीय विद्यालय अथवा निजी केंद्रीय विद्यालय में गैरवासीय विद्यार्थी के रूप में प्रवेशित कर आरटीई के प्रावधानों के अनुसार फीस केंद्र सरकार द्वारा दी जाएगी। साथ ही किताबें, नोटबुक, यूनिफार्म पर व्यय राशि भी प्रदान की जाएगी। ऐसे बाल हितग्राही जिनकी आयु 11 से 18 वर्ष के मध्य होने पर केंद्रीय आवासीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय, सैनिक स्कूल आदि में प्रवेश किया जाएगा। अगर बाल हितग्राही परिवार में निवास करता है तो नजदीकी केंद्रीय विद्यालय या निजी विद्यालय में गैरआवासीय विद्यार्थी के रूप में प्रवेश कर आरटीई के प्रावधानों के अनुरूप फीस केंद्र सरकार द्वारा दी जाएगी। साथ ही किताबों, नोटबुक, यूनिफार्म पर भी क्रय राशि प्रदान की जाएगी।

रतलाम जिले में पीएम केयर चिल्ड्रन स्कीम के तहत पात्र 15 बाल हितग्राहियों को पोर्टल पर दर्ज किया जाकर कलेक्टर एवं बच्चे के नाम से संयुक्त खाता बैंकों में खुलवाया गया है। भारत सरकार द्वारा राशि प्राप्त होते ही संयुक्त खाते में राशि जमा कराई जाएगी।

हिन्दुस्थान समाचार/ शरद जोशी

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story