"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×
doon Horizon

सकारात्मक विमर्श से और सशक्त होगा संविधान

  
सकारात्मक विमर्श से और सशक्त होगा संविधान


व्याख्यान देते विद्वान शिक्षक


- बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के बाबू जगजीवन राम विधि संस्थान में संविधान दिवस पर संगोष्ठी संपन्न

झांसी,26 नवम्बर (हि.स.)। बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के बाबू जगजीवन राम विधि संस्थान में संविधान दिवस के अवसर पर संगोष्ठी आयोजित की गई। संगोष्ठी में मुख्य वक्ता जनसंचार एवं पत्रकारिता संस्थान के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ कौशल त्रिपाठी ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में सकारात्मक विमर्श के माध्यम से संविधान को और सशक्त बनाया जा सकता है। विधि के छात्रों को संविधान का अध्ययन करते वक्त उसकी समालोचना, समीक्षा एवं वर्तमान विमर्श पर भी अध्ययन करना चाहिए।

मुख्य अतिथि समाज कार्य विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ अनूप कुमार ने कहा कि विधि का छात्र होने के नाते आप की भूमिका बनती है कि संविधान के विषय में ज्ञान के साथ ही जागरूकता का भी प्रचार प्रसार करें। जब तक संविधान में प्रदत्त अधिकारों और कर्तव्यों का पालन जन-जन को प्राप्त नहीं होगा तब तक हम संविधान के संपूर्ण उद्देश्य को प्राप्त नहीं कर पाएंगे।

विधि विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ विनोद कुमार ने अपने स्वागत उद्बोधन के साथ उपस्थित सभी शिक्षकों और छात्रों को संविधान का पालन करने की शपथ दिलाई। उन्होंने संविधान दिवस की प्रस्तावना रखते हुए कहा कि आज ही के दिन संविधान सभा द्वारा संविधान को अंगीकृत किया गया।

विधि संस्थान के डॉ अभिषेक कुमार ने संविधान निर्माण की ऐतिहासिक यात्रा के विषय में छात्रों को जानकारी दी। डॉक्टर महेंद्र कुमार ने भारतीय संविधान और अंतरराष्ट्रीय परिदृश्य पर अपने विचार रखे। इसके साथ ही विधि संस्थान की छात्रा नंदिनी तोमर ने जातिगत भेदभाव मिटाने में संविधान की भूमिका, छात्र विवेक झा ने राजनीति और न्यायपालिका में परिवारवाद, अर्चना अहिरवार ने महिला अधिकारों, छात्र राजू गुप्ता ने धर्मनिरपेक्षता और पंथनिरपेक्षता में अंतर, भारती राजपूत ने लोकतंत्र में संविधान की भूमिका एवं आलोक यादव ने संविधान में प्रदत्त अधिकारों की अपेक्षा दायित्व को प्राथमिकता पर अपने विचार प्रस्तुत किए। छात्र दिव्य राज जीवन वर्मा ने "मैं भारत का संविधान हूं, लाल किले से बोल रहा हूं" कविता प्रस्तुत की। संचालन रितु शर्मा एवं आभार डॉ प्रशांत मिश्रा ने दिया।

इस अवसर पर विधि विभाग के डॉ राजेश कुमार सिंह, डॉ हरिशंकर, डॉ मंजू कौर, डॉ संदीप वर्मा, डॉ अपर्णा अग्रवाल, डॉ आशुतोष द्विवेदी एवं डॉ अभिषेक शुक्ला के साथ विधि विभाग के छात्र एवं छात्राएं उपस्थित रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/महेश

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story