"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×
doon Horizon

आजादी का अमृत महोत्सव देश की युवा पीढ़ी को समर्पित : प्रो0 केशव

  
आजादी का अमृत महोत्सव देश की युवा पीढ़ी को समर्पित : प्रो0 केशव


सम्बोधित करते प्रो केशव मिश्र


प्रयागराज, 26 नवम्बर (हि.स.)। आजादी का अमृत महोत्सव देश की वर्तमान युवा पीढ़ी को समर्पित है। भारत की महान सभ्यता एवं संस्कृति की गौरवगाथा को सामाजिक पटल पर लाने का यह अभिनव प्रयोग है। भारत में साम्राज्यवाद के स्वरूप तथा उसके विरुद्ध जनान्दोलनों के विविध पक्षों की चर्चा युवाओं के बीच विशेष प्रासंगिक होगी।

यह बातें बनारस हिंदू विश्वविद्यालय इतिहास विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर केशव मिश्र ने व्यक्त किया। वह शुक्रवार को दांदूपुर स्थित समदरिया स्कूल में “आजादी के अमृत महोत्सव की प्रासंगिकता“ विषय पर बतौर मुख्य वक्ता व्याख्यान दे रहे थे। उन्होंने कहा कि भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय द्वारा संचालित किये जा रहे इस विशाल कार्यक्रम में समाज की समग्र हिस्सेदारी आवश्यक है। इसके माध्यम से वर्तमान पीढ़ी को नई ऊर्जा, नए संकल्पों के साथ आत्म निर्भरता का अमृत प्राप्त होगा।

प्रो0 मिश्र ने कहा कि इसका शुभारम्भ आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने से 75 सप्ताह पूर्व ही 12 मार्च को साबरमती से दांडी यात्रा के साथ हुआ है। ’वोकल फॉर लोकल’ के तहत भारतीय उत्पादों की विशिष्टता, कौशल आधारित शिक्षा, मेक इन इंडिया भविष्य के नए भारत निर्माण में सहायक होगा। उन्होंने आगे कहा कि विश्व के इस विशालतम लोकतांत्रिक देश में सर्वाधिक युवा आबादी है, जिसकी जनाकांक्षाओं के अनुरूप भागीदारी आवश्यक है। इसके लिए सनातन संस्कृति और स्वतंत्रता आंदोलन में क्रांतिकारी युवाओं की भूमिका पर आयोजित विमर्श उनका मार्ग प्रशस्त करेगा।

अध्यक्षता करते हुए आर्य कन्या डिग्री कॉलेज की प्राचार्य डॉ. रमा सिंह ने कहा कि भारत के लोगों की पहचान संवैधानिक अधिकारों से नहीं अपितु कर्तव्यों से थी। किन्तु आज व्यवहार में हम अपने मौलिक अधिकारों की बात तो करते हैं लेकिन कर्तव्यों को भूलते जा रहे हैं।

इसके पूर्व संस्थान के निदेशक डॉ. मणि शंकर द्विवेदी ने प्रो0 केशव मिश्र का अभिनंदन किया तथा जेएनयू, नई दिल्ली, इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय व बीएचयू में उनके द्वारा किए गए उत्कृष्ट अकादमिक योगदानों पर चर्चा की। इसी श्रृंखला में सामाजिक संगठन इनरव्हील वाराणसी की पूर्व अध्यक्ष वाणी भारद्वाज को भी सम्मानित किया गया। संचालन डॉ. अम्बिका पाण्डेय तथा आभार ज्ञापन पीके तिवारी ने किया।

इस अवसर पर डॉ विमला मिश्रा, प्रभात शुक्ल, डॉ प्रदीप शर्मा, सिद्धार्थ अर्जुन, दिनेश मिश्र, डॉ मीना पटेल, एमपी सिंह, राघवेंद्र प्रताप सिंह, प्रियंका जयसवाल, सुमन शालिनी जायसवाल, नीतू सिंह संज्ञा पाण्डेय, तृप्ति जायसवाल, विनोद यादव आदि उपस्थित रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/विद्या कान्त

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story