"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×
doon Horizon

किसान आंदोन के एक वर्ष पूरा होने पर किसानों ने राजभवन मार्च निकाला

  
किसान आंदोन के एक वर्ष पूरा होने पर किसानों ने राजभवन मार्च निकाला


राजभवन के समीप


राजभवन के समीप


रांची, 26 नवम्बर (हि.स.)।

किसान आंदोलन के एक वर्ष पूरे होने पर झारखंड में किसान संघर्ष समन्वय समिति एवं श्रमिक संगठनों की ओर से जिला स्कूल रांची से शुक्रवार को मार्च निकाला गया, जो राजभवन के समक्ष सभा में तब्दील हो गयी। सभा की अध्यक्षता अखिल भारतीय किसान सभा के महासचिव महेंद्र पाठक, झारखंड किसान सभा के सचिव सुजीत सिन्हा , मिथिलेश सिंह, एआईटीयूसी के लाल देव सिंह, महेश कुमार, शुभेंदु सेन ने की। सभा को पूर्व सांसद भुवनेश्वर प्रसाद मेहता, एग्रीकल्चर वर्कर्स यूनियन के संयुक्त सचिव विक्रम सिंह, अखिल भारतीय किसान सभा के पीके पांडेय सहित कई लोगों ने संबोधित किया।

इस अवसर पर भुवनेश्वर मेहता ने कहा कि आज जिस संविधान के बल पर देश में किसान आंदोलन चल रहा है उसके एक वर्ष पूरे हुए। किसानों के आगे केंद्र सरकार को झुकना पड़ा। नेताओं ने कहा कि संविधान हमारी ताकत है, संविधान के बल पर ही हम हर मांगे सरकार से पूरी कराएंगे। केंद्र सरकार लगातार जनविरोधी नीतियों को लागू कर रही है ,जिस वजह से देश के किसान छात्र नौजवान मजदूर सभी आंदोलन पर हैं। केंद्र की सरकार कॉरपोरेट घराने के इशारे पर किसानों की जमीन लूटना चाहती है ,तो दूसरी तरफ उद्योगपतियों को लाभ के लिए मजदूरों के अधिकार छीनना चाहती है। इसे लेकर लगातार सभी जन विरोधी कानूनों के विरोध में आंदोलन जारी रहेगा।

इस दौरान संविधान दिवस के अवसर पर भाकपा माले नेता भुवनेश्वर केवट के द्वारा संविधान पढ़ कर सभी को शपथ दिलाई गई। साथ ही शहीद किसानों को एक मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

हिन्दुस्थान समाचार/ विकास

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story