"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×
doon Horizon

निगम व जल संस्थान के टैक्स वृद्धि के विरोध में आंदोलन करेगा उजविम

  
निगम व जल संस्थान के टैक्स वृद्धि के विरोध में आंदोलन करेगा उजविम


ऋषिकेश, 26 नवंबर (हि.स.)। उत्तराखंड जन विकास मंच ने बिजली व पानी के बिलों और नगर निगम के संपत्ति कर में वृद्धि के विरोध में आंदोलन करने का ऐलान किया है। मंच ने दस दिन का अल्टीमेटम देकर इस वृद्धि को वापस लेने की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन की चेतावनी दी है।

शुक्रवार को इस संबंध में मंच के संयोजक आशुतोष शर्मा और जन विकास मोर्चा के अध्यक्ष रामकृपाल गौतम ने हरिद्वार मार्ग पर स्थित एक आश्रम में पत्रकार वार्ता की। उन्होंने कहा कि जहां एक और लोग बढ़ती महंगाई से परेशान है, वहीं उक्त विभागों ने करों में वृद्धि कर लोगों की परेशानियां बढ़ा दी हैं। इसके विरोध में मंच जन जागरूकता अभियान चलाकर एक आंदोलन की रूपरेखा बना रहा है। उन्होंने कहा कि ऋषिकेश नगर निगम अपने उपभोक्ताओं से स्व कर निर्धारित संपत्ति कर अप्रैल 2021 से 2022 तक पूरा वसूल कर रही है, जबकि उत्तराखंड जन विकास मंच निर्धारित संपत्ति कर प्रणाली को लागू करने से पहले इसके गुण दोष के संबंध में पूर्व नगर आयुक्त से बातचीत कर चुका है। उन्होंने दावा किया कि उन्हें आश्वासन दिया था कि इस प्रणाली पर विचार कर इसे समाप्त किया जाएगा। परंतु अब भी इस प्रणाली को लागू रखा जा रहा है, जो ऋषिकेशवासियों के लिए नाइंसाफी है। उन्होंने कहा कि एचआरए कैटेगरी के शहरों के अनुसार ऋषिकेश नगर निगम में स्व कर निर्धारित संपत्ति कर की सीमित दर से अधिक नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड जन विकास मंच पानी व बिजली के ज्वलंत मुद्दों के साथ संपत्ति कर विषय को लेकर 10 दिन के बाद धरना प्रदर्शन के साथ आंदोलन शुरू करेगा। पत्रकार वार्ता के दौरान जनार्दन नवानी, लेखक भंडारी, राजेंद्र पाल, देवेंद्र बेलवाल, आदेश शर्मा और राजू गुप्ता आदि भी मौजूद थे।

हिन्दुस्थान समाचार /विक्रम

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story