क्योंकि सच जानना आपका हक़ है
क्योंकि सच जानना आपका हक़ है

दूसरे आम बजट ने बाजार को किया निराश , निवेशकों के डूबे 3.6 लाख करोड़ रुपये

दूसरे आम बजट ने बाजार को किया निराश , निवेशकों के डूबे 3.6 लाख करोड़ रुपये

मुंबई : मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के दूसरे आम बजट ने बाजार को निराश किया. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2020-21 का बजट पेश किया. वित्त मंत्री ने इनकम टैक्स स्लैब में बदलाव किया.

साथ ही साथ ही कंपनियों पर डीडीटी खत्म करने का भी ऐलान किया. निवेशकों को एलटीसीजी और एसटीटी पर उम्मीदें थी, लेकिन इसकी घोषणा नहीं होने से बाजार का मूड बिगड़ गया जिसकी वजह से शेयर बाजार भारी गिरावट के साथ बंद हुआ.

कारोबार के अंत में सेंसेक्स 988 अंक टूटकर 39,735.53 के स्तर पर बंद हुआ. वहीं, निफ्टी 318 अंक लुढ़ककर 11,644 के स्तर पर क्लोज हुआ. बाजार में गिरावट से निवेशकों को 3.60 लाख करोड़ रुपये का झटका लगा.

बाजार में पिछले 10 बजट में सबसे बड़ी गिरावट देखने की मिली. मोदी सरकार के पिछले 6 में से 4 पूर्ण बजट के दिन शेयर बाजार गिरावट में रही. हालांकि पिछले साल 1 फरवरी को आए अंतरिम बजट के दिन सेंसेक्स 0.6% फायदे में रहा था. बजट के दिन सेक्टर विशेष से जुड़े ऐलान होने पर उस सेक्टर की कंपनियों के शेयरों में भी उतार-चढ़ाव आता है.

निवेशकों के डूबे 3.6 लाख करोड़ रुपये

वित्त मंत्री के बजट ने निवेशकों हताश किया. बजट के दिन बाजार में गिरावट से निवेशकों तगड़ा झटका लगा है. शनिवार को निवेशकों को 3.6 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. शुक्रवार को बंद भाव पर बीएसई पर लिस्टेड कुल कंपनियों का मार्केट कैप 1,56,50,981.73 करोड़ रुपये था, जो आज 3,62, 228.51 करोड़ रुपये घटकर 1,52,88,753.22 करोड़ रुपये हो गया.

बीएसई के मिडकैप इंडेक्स में 2.21 फीसदी की गिरावट और स्मॉल कैप इंडेक्स में 2.20 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. वहीं निफ्टी के सेक्टर इंडेक्स में मेटल इंडेक्स में 3.43 फीसदी की कमजोरी, पीएसयू बैंक इंडेक्स में 4.04 फीसदी की कमजोरी, प्राइवेट बैंक इंडेक्स में 3.09 फीसदी की कमजोरी देखने को मिली जबकि रियल्टी इंडेक्स में 8.16 फीसदी की बड़ी गिरावट देखने को मिली. निफ्टी के सेक्टर इंडेक्स में सिफ आईटी इंडेक्स हरे निशान पर बंद हुआ जिसमें 0.81 फीसदी की बढ़त देखने को मिली.

इससे पहले, आज के कारोबार में सेंसेक्स में 250 अंकों से ज्यादा गिरावट है और यह 40500 के स्तर के नीचे चला गया. वहीं, निफ्टी में भी करीब 60 अंक टूटकर 11900 के नीचे चला गया. इसके पहले भी गुरूवार और शुक्रवार को शेयर बाजार में बड़ी गिरावट देखी गई थी.

क्यों खुला बाजार- न्यूज एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से बताया कि शेयर बाजार से जुड़े लोगों की अपील पर यह फैसला लिया गया, क्योंकि बजट की घोषणाओं से बाजार में काफी उतार-चढ़ाव आते हैं. 2015 में भी बजट के दिन शनिवार होने के बावजूद बीएसई पर ट्रेडिंग हुई थी. सामान्य तौर पर शनिवार-रविवार को शेयर बाजार बंद रहता है.

विदेशी निवेश बढ़ाने के लिए हो सकते हैं फैसला- एसकोर्ट सिक्योरिटी की रिसर्च रिपोर्ट्स के मुताबिक, आज के बजट में आयकर और शेयर बाजार से जुड़े बड़े ऐलानों की उम्मीद की जा रही है.

सरकार निजी और विदेशी निवेश को बढ़ावा देने वाली घोषनाएं कर सकती है. देश की तिमाही जीडीपी ग्रोथ 6 साल के निचले स्तर पर है. सरकार ने सालाना ग्रोथ 5 फीसदी रहने का अनुमान जारी किया है. यह 11 साल में सबसे कम होगी.

एशियाई और अमेरिकी बाजारों में गिरावट

एशियाई बाजारों में आज एसजीएक्स निफ्टी 47 अंक यानी 0.39 फीसदी की कमजोरी के साथ 11,940.00 के स्तर पर कारोबार कर रहा है. उधर US मार्केट में भारी गिरावट देखने को मिली है. अमेरिकी मार्केट पर कोरोनावायरस का डर फिर हावी होता नजर आ रहा है.

कल के कारोबार में डाओ जोंस 2 फीसदी से ज्यादा टूटा है. अगस्त के बाद कल का दिन सबसे खराब दिन रहा. अमेरिका ने चीन से आने वालों पर ट्रैवल पर पाबंदी लगा दी है. अमेरिका में भी कोरोना वायरस के 7 मामले में सामने आए हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More