क्योंकि सच जानना आपका हक़ है
क्योंकि सच जानना आपका हक़ है

‘टाई टूर्स – अनकॉन्फ्रेंस ऑन गोगोबस’: आगरा के लिए टाई दिल्ली-एनसीआर और गोगोबस का अभियान, बड़े निवेशकों एवं उद्यमियों के साथ कॉन्फ्रेंस ऑन व्हील्स की मेजबानी

सभी चीजों को शामिल करने वाली ताजमहल तक की इस यात्रा का आयोजन 29 फरवरी को किया जाएगा, तथा यह अनौपचारिक व्यवस्था भारतीय स्टार्ट-अप के परिवेश से संबंधित कुछ बेहद अहम मुद्दों पर चर्चा के लिए पृष्ठभूमि की भूमिका निभाएगी

‘टाई टूर्स – अनकॉन्फ्रेंस ऑन गोगोबस’: आगरा के लिए टाई दिल्ली-एनसीआर और गोगोबस का अभियान, बड़े निवेशकों एवं उद्यमियों के साथ कॉन्फ्रेंस ऑन व्हील्स की मेजबानी

आगरा : टाई दिल्ली-एनसीआर, टाई ग्लोबल नेटवर्क के सबसे ज़िंदादिल चैप्टर्स में से एक है, जो अपने आप में बिल्कुल अनोखे बिजनेस ट्रिप, यानी कि “टाई टूर्स– अनकॉन्फ्रेंस ऑन गोगोबस” के आयोजन के लिए पूरी तरह से तैयार है, जिसका उद्देश्य इस अद्वितीय व्यवस्था का लाभ उठाते हुए उद्यमशीलता के बिल्कुल नए मूल्यों का निर्धारण करना है।

29 फरवरी को नई दिल्ली से शुरू होने वाला यह अनोखा एकदिवसीय सम्मेलन, भारतीय स्टार्ट-अप के परिवेश से जुड़े प्रमुख हितधारकों को भविष्य में विकास के संदर्भ में सबसे ज्यादा तनाव देने वाले मुद्दों पर चर्चा के लिए अनौपचारिक स्थान उपलब्ध कराएगा।

इस कार्यक्रम में भारतीय स्टार्ट-अप के परिवेश से जुड़े प्रमुख शामिल होंगे, जिनके नाम इस प्रकार हैं – श्री आलोक बाजपेयी, इक्सिगो; श्री तेज कपूर, फ़ोसुन; श्री आलोक बंसल, पॉलिसी बाज़ार; श्री निखिल पाहवा, मीडियानामा; श्री अक्षय चतुर्वेदी, लीवरेजएडू; श्री अंकित वैश्य, प्रोबस; श्री हेमंत कोहली, एमपेगो। इनके अलावा भी कई जाने-माने लोग मौजूद होंगे।

इस कार्यक्रम के बारे में बताते हुए, टाई दिल्ली-एनसीआर की कार्यकारी निदेशक, श्रीमती गीतिका दयाल ने कहा, “स्टार्ट-अप्स सही मायने में नई-नई खोज के आधार पर विकसित होते हैं, और एक बिजनेस कॉन्फ्रेंस की अवधारणा के साथ इस बात को लोगों के सामने प्रस्तुत करने का इससे बेहतर तरीका क्या हो सकता है? ‘अनकॉन्फ्रेंस ऑन गोगोबस’ के माध्यम से, हमारा उद्देश्य स्टार्ट-अप के परिवेश में प्रमुख हितधारकों के साथ जुड़ने, एवं नेटवर्क बनाने तथा उनसे संबद्धता के दायरे को व्यापक बनाना है।

इस कार्यक्रम का उद्देश्य चर्चाओं से बेहतर नतीजे प्राप्त करने के लिए आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराना तथा यहां प्राप्त होने वाले अनुभव को सभी के लिए अद्वितीय एवं आकर्षक बनाना है। इस कार्यक्रम की मेजबानी को लेकर हम बेहद उत्सुक हैं, और हमें यकीन है कि यह कार्यक्रम सभी के लिए समान रूप से दिलचस्प प्रारूप में प्रेरणादायक बातचीत को प्रोत्साहित करते हुए भारतीय स्टार्ट-अप्स के परिवेश के लिए बिल्कुल नए मूल्यों का निर्धारण करेगा।”

इस मौके पर गोगोबस के सह-संस्थापक, श्री अमित गुप्ता ने कहा, “‘अनकॉन्फ्रेंस ऑन गोगोबस’ का विचार बिल्कुल अनोखा है, जिसके सहारे हम स्टार्ट-अप्स और निवेशकों के लिए जानकारी को साझा करने हेतु एक प्लेटफार्म का निर्माण करना चाहते हैं। अनौपचारिक परिचर्चा के लिए निर्धारित इस कार्यक्रम का पहला संस्करण, विचारों के प्रवाह और अस्थिरता के मुद्दों के इर्द-गिर्द स्वतंत्र चर्चा में सहायता करेगा। इसके अलावा, हम इस पहले अनौपचारिक चर्चा के लिए गोगोबस द्वारा प्रदान किए जाने वाले अनुभव के माध्यम से बस यात्रा को असहज मानने की गलतफ़हमी को भी दूर करना चाहते हैं।

‘टाई टूर्स – अनकॉन्फ्रेंस ऑन गोगोबस’ का पहला सत्र वर्ष 2020 में गतिशीलता के विषय के साथ-साथ इन क्षेत्रों में चुनौतियों और अवसरों पर केंद्रित होगा। स्थायी और बेहतर क्षमता वाले गतिशीलता समाधान की बढ़ती जरूरतों के इर्द-गिर्द व्यावहारिक विचार-विमर्श के पहले सत्र के बाद थोड़ी देर का विराम होगा, जिसके बाद जलपान, मनोरंजन, खेल और दोपहर आपके भोजन की व्यवस्था होगी– साथ ही कार्यक्रम को और ज्यादा उत्साहजनक बनाने के लिए इसमें ताजमहल की यात्रा को भी शामिल किया गया है।

ब्रेक के बाद दूसरे सत्र की चर्चा शुरू होगी, जिसकी मुख्य विषय-वस्तु नए जमाने के उद्यमियों की अहम समस्याओं पर केंद्रित होगी: क्या अमेज़न, गूगल, फेसबुक और अलीबाबा जैसी तकनीकी क्षेत्र की दिग्गज कंपनियां इनोवेशन कर रही हैं या इसमें बाधा डाल रही हैं? इस सत्र में मुख्यतः इस विषय पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा कि, बड़े-बड़े संगठन किस तरह डेटा और अपने विस्तार क्षेत्र के साथ इस खाई को और गहरा बनाते हैं, और क्या यह बात उद्यमियों को इनोवेशन करने से हतोत्साहित करती है, साथ ही इस बात पर भी चर्चा होगी कि उभरते हुए उद्यम किस तरह इन परिस्थितियों का लाभ उठा सकते हैं तथा तकनीकी क्षेत्र की बड़ी कंपनियों के साथ तालमेल बनाए रख सकते हैं।

टाई का परिचय

govt ad side bar

टाई एक वैश्विक गैर-लाभकारी संगठन है, जो परामर्श व प्रशिक्षण, नेटवर्किंग, शिक्षा, देखभाल तथा आर्थिक सहायता के माध्यम से उद्यमशीलता को बढ़ावा देने के लिए समर्पित है। इसके दायरे में 14 देशों में मौजूद 61 चैप्टर्स शामिल हैं। टाई दिल्ली-एनसीआर, टाई ग्लोबल के विस्तृत नेटवर्क के सबसे सक्रिय और ज़िंदादिल चैप्टर्स में से एक है।

पिछले 19 सालों में, इसने उद्यमियों और निवेशकों के लिए तेजी से विकसित हो रहे सकारात्मक परिवेश के निर्माण की अगुवाई की है। संरक्षकों के एक सशक्त आधार, वर्ष भर आयोजित होने वाले बड़े कार्यक्रमों तथा विषयों पर केंद्रित वर्कशॉप के साथ, यह राष्ट्रीय स्तर पर एंटरप्रेन्योरशिप को सहारा देने वाले सबसे मूल्यवान प्लेटफार्मों में से एक के तौर पर उभर कर सामने आया है। टाई द्वारा आयोजित कार्यक्रमों की श्रृंखला काफी विस्तृत है, जिसमें टाई ग्लोबल समिट, टाईकॉन, स्टार्टअप एक्सपो, सभी क्षेत्रों में स्पेशल इंटरेस्ट ग्रुप (SIG), टाई इंस्टिट्यूट एंड एएमपी; टाई यंग एंटरप्रेन्योर्स शामिल हैं।

अधिक जानकारी के लिए, कृपया www.delhi.tie.org पर जाएँ।

गोगोबस का परिचय

गोगोबस विभिन्न शहरों के बीच हर तरह की बस सेवाओं का संचालन करने वाली है, जिसका उद्देश्य “यात्रा के अनुभव को सुरक्षित और खुशहाल बनाना” है। इसके कारोबार का मॉडल अपेक्षाकृत कम पूंजीगत परिसंपत्ति वाला है, जो बुकिंग, ट्रैकिंग, बस के भीतर मनोरंजन तथा मानकों के अनुरूप ब्रांड नई बसों और पिकअप पॉइंट्स के लिए बेहद मजबूत इंटरकनेक्टेड, इन-हाउस तकनीकी प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराता है। गोगोबस का स्मार्ट बस प्लेटफॉर्म दूसरों से बिल्कुल अलग सीएक्स एवं गो-ऑन प्रदान करने के साथ-साथ भारत के सबसे विश्वसनीय एवं पसंदीदा बस ट्रैवल ब्रांड बनने के लिए प्रतिबद्ध है।

बाजार की गहरी समझ रखने वाली अपनी अनुभवी एवं सक्षम टीम, परिचालन का समृद्ध अनुभव, नवीनतम तकनीक, रणनीति और कॉर्पोरेट विकास कौशल के साथ, कंपनी ने इस विचार को केवल एक महीने के भीतर प्रारंभिक परियोजना के तौर पर लॉन्च किया!
परिचालन की शुरुआत के 30 दिनों की अवधि में ही गोगोबस ने 2500 से अधिक ग्राहकों की सेवा करने तथा 500,000 किमी से अधिक दूरी को कवर करने का गौरव हासिल किया है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More