"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

उत्तराखंड परिवहन निगम में तैनात किए गए चालकों को नहीं मिला पिछले आठ माह से वेतन 

  

अल्मोड़ा : उत्तराखंड परिवहन निगम में तैनात किए गए चालकों को पिछले आठ माह से वेतन नहीं मिला है, जिससे उनमें निगम और एजेंसी संचालकों के खिलाफ आक्रोश है।

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा है कि कोरोना संक्रमण काल व लाकडाउन के दौरान उनसे काम तो लिया गया लेकिन वेतन नहीं दिया गया, जिससे उनकी आॢथक स्थिति खराब हो गई है।

वेतन न मिलने से चालक मुखमरी की कगार पर आ गए है। उत्तराखंड परिवहन निगम में जेड सिक्योरिटी एजेंसी के माध्यम से चालकों को रखा गया है। इसमें 10 चालक अल्मोड़ा डिपो में और तीन चालक रानीखेत डिपो में तैनात हैं।

वह अप्रैल माह से लगातार अपनी सेवाएं दे रहे हैं। चालकों का कहना है कि लाकडाउन के दौरान उन्हें प्रवासियों को भेजने में लगाया गया। जान जोखिम में डालकर वह हर वक्त तैनात रहे, लेकिन जब वेतन की बात आई तो पिछले आठ माह से वेतन नहीं दिया गया।

कई बार कहने के बाद भी उनकी कोई सुध लेने वाला कोई नहीं है। वेतन न मिलने से वह भूखमरी की कगार पर आ गए हैं। घर चलाना मुश्किल हो रहा है। वेतन न मिलने के कारण बच्चों की फीस भी नहीं दे पा रहे हैं।

वहीं कहने के बाद भी इस संबंध में निगम प्रबंधक भी कुछ सुनने को तैयार नहीं हैं। उन्होंने आठ माह का वेतन दिलाने की मांग की है। मांग करने वालों में चालक ललित वर्मा, भगवान सिंह, राजेंद्र बिष्ट, संजय नेगी, दिनेश परिहार, राजेंद्र, रमेश भट्ट, इंदर सिंह, भवान सिंह, भवान चंद्र, महेश चंद्र शामिल हैं।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story