"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

पतंजलि के स्वामित्व वाले दो टीवी चैनलों को नेपाल में क्लीन चिट

काठमांडू, 26 नवंबर (आईएएनएस)। योग गुरु रामदेव के स्वामित्व वाले दो पतंजलि टेलीविजन चैनलों को नेपाल में क्लीन चिट दे दी गई है।
  
पतंजलि के स्वामित्व वाले दो टीवी चैनलों को नेपाल में क्लीन चिट
पतंजलि के स्वामित्व वाले दो टीवी चैनलों को नेपाल में क्लीन चिट काठमांडू, 26 नवंबर (आईएएनएस)। योग गुरु रामदेव के स्वामित्व वाले दो पतंजलि टेलीविजन चैनलों को नेपाल में क्लीन चिट दे दी गई है।

नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा और वरिष्ठ नेपाली राजनीतिक नेताओं ने 19 नवंबर को काठमांडू में एक समारोह में रामदेव, आचार्य बालकृष्ण की उपस्थिति में दो चैनलों - आस्था नेपाल और पतंजलि नेपाल का उद्घाटन किया था।

लेकिन पतंजलि समूह के स्वामित्व वाले दो टेलीविजन चैनलों की लॉन्चिंग विवादों में घिर गई, क्योंकि हिमालयी राष्ट्र ने अभी तक मीडिया क्षेत्र में किसी भी विदेशी निवेश की अनुमति नहीं दी है।

सूचना और संचार मंत्रालय के तत्वावधान में सूचना और प्रसारण विभाग ने 20 नवंबर को यह अध्ययन करने के लिए एक समिति का गठन किया कि क्या दोनों पतंजलि टेलीविजन चैनल नेपाल में पंजीकृत हैं और उन्हें संचालित करने का लाइसेंस कहां से मिला है।

सूचना और प्रसारण विभाग के महानिदेशक गोगोन बहादुर हमाल ने आईएएनएस को बताया, हमने पाया कि उन्होंने अभी तक टेलीविजन चैनल लॉन्च नहीं किए हैं।

हमाल ने कहा कि पता चला है कि उन्होंने (पतंजलि समूह ने) प्रतीकात्मक रूप से टेलीविजन चैनलों का उद्घाटन किया और जांच के दौरान यह भी पाया गया कि उन्होंने कोई उपकरण नहीं लगाया है और अनुमति के लिए आवेदन भी नहीं किया है।

हमाल ने कहा, अगर पतंजलि ग्रुप ने उपकरण लगाकर टेलीविजन चैनल चलाना शुरू कर दिया होता तो हम निश्चित तौर पर उनके खिलाफ कार्रवाई करते लेकिन हमारी जांच में वे जरूरी उपकरण तक नहीं लाए।

इस मुद्दे ने नेपाल में सुर्खियां बटोरीं और पतंजलि समूह पर अपने कदम का बचाव करने का दबाव भी डाला।

21 नवंबर को पतंजलि योगपीठ नेपाल ने एक बयान जारी किया और दावा किया कि उसने कंपनी पंजीकृत कार्यालय के माध्यम से टेलीविजन चैनलों को लॉन्च करने के लिए सत्यापन प्रक्रिया शुरू कर दी है।

--आईएएनएस

एसजीके

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story