"क्योंकि सच जानना आपका हक है"

×

खतरा अभी टला नहीं : चीन में फ्रोजेन फूड पैकेजिंग पर फिर मिले कोरोना वायरस के निशान 

  

डिजिटल डेस्क : चीन के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन ने फ्रोजेन फूड पैकेजिंग के बाहरी हिस्से पर कोरोना के वायरस मिलने का दावा किया है।

चीन सरकार द्वारा संचालित सीसीटीवी चैनल ने इस बात की जानकारी दी है। सीसीटीवी ने जानकारी दी है कि फूड पैकेजिंग के बाहरी हिस्से प्रदूषित पाएं गए हैं कि उससे कोरोना फैलने की संभावना बरकरार है।

इस बार शेडोंग में मिले कोरोना के वायरस

जानकारी के मुताबिक शेडोंग प्रांत के तटीय शहर किंगदाओ के फूड पैकेजिंग पर कोरोना के वायरस पाए गए हैं।

हालांकि, चीनी ब्रॉडकास्टिंग एजेंसी ने यह नहीं बताया है कि किन उत्पादों पर कोविद-19 के वायरस मिले हैं।

1 दर्जन नए मामले आए सामने

बताया गया है कि इस महीने में इस तरह के एक दर्जन नए वायरस के मामले सामने आए हैं। इनमें से एक मामला अस्पताल से जुड़ा है, जहां दूसरे देशों से आये कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज किया जाता है।

फूड पैकेजिंग की टेस्टिंग जारी

चीन ने हाल के महीनों में कई बार कहा है कि दूसरे देश से आयातित फ्रोजेन फूड पैकेजिंग से कोरोना वायरस फैलने का खतरा बना हुआ है।

इस बात को लेकर सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन विभाग के अधिकारी पहले से सतर्क हैं। यही वजह है कि चीन में आयाजित फूड पैकेजिंग की टेस्टिंग नियमित रूप से जारी है।

इंडोनेशिया और ब्राजील के उत्पादों पर लगे प्रतिबंध

इस मामले में चीनी अधिकारियों का दावा है कि इससे पहले भी विभिन्न देशों से आयातित फ्रोजेन फूड पैकेजिंग उत्पादों से कोरोना वायरस के सकारात्मक मामले सामने आए थे।

इस तरह का मामला सामने आने के बाद से चीनी अधिकारी कोरोना वायरस प्रसार को लेकर सतर्क हैं। चीनी अधिकारियों ने बताया कि फ्रोजेन फूड पैकेजिंग पर कोरोना के वायरस मिलने के बाद इंडोनेशिया से आए समुद्री खाद्य और ब्राजील से आयातित फ्रोजेन चिकन सहित अन्य उत्पादों पर प्रतिबंध भी लगाया था।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Share this story