सीएसए की छात्राओं ने वस्त्र एवं परिधानों की सिलाई व कढ़ाई

सीएसए की छात्राओं ने वस्त्र एवं परिधानों की सिलाई व कढ़ाई


कानपुर, 10 मई (हि.स.)। वस्त्रों में सिलाई एवं कढ़ाई में बराबर बदलाव हो रहे हैं। नई नई तकनीक के जरिये वस्त्रों को आकर्षण बनाया जा रहा है। इसी कड़ी में मंगलवार को ऊषा कंपनी के तकनीकी सहायकों के जरिये सीएसए के छात्राओं ने वस्त्र एवं परिधानों की सिलाई व कढ़ाई को सीखा।

चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (सीएसए) के वस्त्र एवं परिधान विभाग की गारमेंट कंस्ट्रक्शन प्रयोगशाला में मंगलवार को उच्च तकनीकी की सिलाई मशीन वंडर स्टिच प्लस, एल्योर डिलक्स, मार्वेला का प्रदर्शन किया गया। ऊषा कम्पनी के तकनीकी सहायकों ने छात्राओं को सभी मशीन से भिन्न भिन्न तरीके की कढ़ाई, बहुत ही जल्दी और आसानी से करना सिखलाया। सभी ने स्मोकिंग, गैदरिंग, रफलिंग, पीको, काज, पैच वर्क तथा कटवर्क करना सीखा। वस्त्र एवं परिधान विभाग की डॉक्टर अर्चना, डॉक्टर ऋतु पाण्डेय एवं सुमायाल अंजुम ने सभी छात्राओं से विभिन्न प्रकार के आकर्षक मास्क और नेक डिजाइन के नमूने बनवाए। इस अवसर पर अधिष्ठाता गृह विज्ञान डॉक्टर पी के उपाध्याय ने सभी छात्राओं के द्वारा बनाए गए नमूनों की भूरि भूरि प्रशंशा की। प्रदर्शन में गृह विज्ञान की स्नातक, परास्नातक एवं पीएचडी की छात्राओं अंशिका, अंजली, ऐश्वर्य, कृति, वैशाली, इत्यादि ने काफी उमंग एवं उत्साह से हिस्सा लिया।

हिन्दुस्थान समाचार/अजय

Share this story

Around The Web