गुना : घोड़ी के बजाय हाथी पर बैठकर निकला दूल्हा

गुना : घोड़ी के बजाय हाथी पर बैठकर निकला दूल्हा


गुना, 10 मई (हि.स.)। जिले के रुठियाई कस्बे में सोमवार की रात हुई एक शादी यादगार बन गई। यहां राघौगढ़ के पूर्व जनपद अध्यक्ष व वर्तमान जिला पंचायत सदस्य हनुमंतसिंह चौहान (ठिकाना दावतपुरा) की बेटी नलिनी सिंह की बारात राजशाही ठाठ से निकली। बारात की खास बात यह रही कि दूल्हा घोड़ी की बजाए हाथी चढक़र दूल्हन के दरवाजे तक पहुंचा। यहां से वह घोड़ी पर बैठकर दुल्हन के घर में प्रवेश किया। इसके पूर्व दुल्हन के दरबाजे पर दूल्हे ने घोड़ी पर बैठकर ही तोरण मारने की रस्म पूरी की।

रुठियाई कस्बे के इतिहास में संभवत: यह पहला मौका था जब किसी बारात में दूल्हे को घोड़ी की बजाए हाथी पर चढ़ाकर बारात निकाली गई और वह दुल्हन के दरवाजे तक पहंचा। दरअसल, पूर्व जनपद अध्यक्ष दातवपुरा के ठिकानेदार परिवार से हैं। उनकी बेटी नलिनी सिंह की बेटी की शादी सारथल बारां (राजस्थान) के ठिकानेदार परिवार के स्व. महेंद्रसिंह राठौड़ के पुत्र जयेंद्र सिंह राठौड से हुई है। इसके लिए पिछले बड़े स्तर पर तैयारियां की जा रही थी।

शादी की तय तारीख अनुसार सोमवार शाम को पूर्व जनपद अध्यक्ष सिंह की बेटी की बारात आई थी। यहां वीरेंद्र कुमार अग्रवाल के घर से दूल्हे को हाथी पर बैठाकर बारात उठी और तय रूट अनुसार दुल्हन के दरवाजे तक पहुंची। यहां दूल्हे को दुल्हन के घर में प्रवेश कराने के लिए हाथी से उतारकर घोड़ी पर बैठाकर तोरण मारने सहित शादी की अन्य रस्में पूरी कराई गई। यही वजह रही कि पूर्व जनपद अध्यक्ष की बेटी की शादी पूरे क्षेत्र में खासी चर्चाओं में रही।

हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक

Share this story

Around The Web