सोनीपत:खरखौदा की बाक्सर सुनैना जांगड़ा ने आठ दिन में दो पदक जीते

सोनीपत:खरखौदा की बाक्सर सुनैना जांगड़ा ने आठ दिन में दो पदक जीते


सोनीपत:खरखौदा की बाक्सर सुनैना जांगड़ा ने आठ दिन में दो पदक जीते


-बैंगलुरु में कांस्य तो सोनीपत में रजत पदक जीता

-सुनैना ने अब तीन स्वर्ण, तीन रजत और पांच कांस्य पदक समेत कुल 11 पदक जीते हैं

सोनीपत,10 मई (हि.स.)। हरियाणा की बेटियां खेलों में अपनी पहचान बना रही है सोनीपत का खंड खरखौदा के गांव गोपालपुर की सुनैना जांगड़ा ने आठ दिन में बैंगलुरु में कांस्य और सोनीपत में रजत पदक जीता। वर्ष 2017 से लेकर मई 2022 तक सुनैना ने अब तीन स्वर्ण, तीन रजत और पांच कांस्य पदक समेत कुल 11 पदक जीते हैं।

प्रतिभा किसी गरीब के बीच दब कर रही है यहां बोलती है प्रतिभा तो निखरती है। गांव गोपाल पुर जिला सोनीपत में ज्योति प्रसाद जांगड़ा व ललिता जांगड़ा के एक गरीब परिवार में 25 अक्टूबर 2003 को सुनैना का जन्म हुआ। दादी कुलपति की लाडली। इसकी बहन शालू और भाई का नाम अंश है। बीए प्रथम वर्ष की छात्रा है। बाक्सिंग की ओर इसका रुझान हुआ 2017 से इसने बॉक्सिंग खेलना शुरु किया। इसके कोच रवि नरवाल और राकेश गुलिया हैं। केएस बॉक्सिंग क्लब खरखौदा में यह प्रशिक्षण ले रही है।

जिला स्तरीय खेल प्रतियोगिता 2017 में पहला स्वर्ण पदक, स्टेट गेम्स के लिए चयन हुआ। उदयपुर राजस्थान में स्वर्ण पदक जीता। अरुणाचल प्रदेश की ओर से खेली तो फिर स्वर्ण पदक मिला। सीबीएसई नेशनल गेम्स प्रतियोगिता 2017 में रोहतक में स्वर्ण पदक मिला।

पिता उधार लेकर पैसे दिये तो कंपीटीशन में शामिल हुई

उसके बाद 2017 नवंबर के महीने में स्कूल स्टेट गेम पंचकूला में हुए इसका नाम शामिल हुआ, ज्योति प्रसाद जांगड़ा कारपेंटर के पास पैसे नहीं थे लेकिन उधर लाकर कंपटीशन के लिए भेजा। वर्ष 2018 में सब जूनियर नेशनल गेम्स कर्नाटका में हुए यहां रजत पदक, 46 किलोग्राम भार वर्ग गुरुग्राम में कांस्य पदक, सन 2019 में सीबीएसई नेशनल गेम्स कोलकत्ता 48 किलोग्राम भार वर्ग में कांस्य पदक आया।

सीबीएसई नेशनल जोनल गेम्स चंडीगढ़ में 48 किलोग्राम भार वर्ग में रजत पदक, वर्ष 2019 में स्कूल स्टेट कंपटीशन पंचकूला में 48 किलोग्राम में कांस्य पदक, सन 2021 में खेलो हरियाणा कंपटीशन करनाल 50 किलोग्राम भार वर्ग में कांस्य पदक लिया। इंटर कॉलेज गेम्स खानपुरकलां सोनीपत में स्वर्ण पदक।

ऑल इंडिया इंटर यूनिवर्सिटी गेम्स जालंधर पंजाब खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स में सिलेक्शन हुआ दो महीने के बाद खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स बेंगलुरु में जैन यूनिवर्सिटी में कांस्य पदक मिला। केस बॉक्सिंग क्लब में बीबीएस नेशनल गेम्स ऑर्गेनाइज हुए यहां 48 किलो वर्ग में मेरे साथ भारती की फाइट हुई थी जिसमें रजत पदक मिला।

सपना है अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वर्ण लेना

ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स में जाने से पहले घुटने में चोट लग गई थी जिसने खेल परिणाम प्रभावित हुए। अभी चोट से उभरने के बाद खेलना शुरु कर दिया है। मेरा लक्ष्य इंटरनेशनल गेम्स में गोल्ड मेडल हासिल करना है। मेरी शक्ति मेरे बड़ों का आशीर्वाद व प्रभु की कृपा है।

हिन्दुस्थान समाचार /नरेंद्र/ संजीव

Share this story

Around The Web