जल जीवन हरियाली योजना की समीक्षात्मक बैठक में डीएम ने कार्यो में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को लगाई फटकार

जल जीवन हरियाली योजना की समीक्षात्मक बैठक में डीएम ने कार्यो में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को लगाई फटकार


गोपालगंज, 10 मई (हि.स.)।जिलाधिकारी डॉ नवल किशोर चौधरी की अध्यक्षता में मनरेगा एवं जल जीवन हरियाली योजना की समीक्षात्मक बैठक आयोजित की गयी। बैठक में डीएम ने सभी संबंधित पदाधिकारियों एवं कर्मियों की उपस्थिति का जायजा लिया गया।

इस दौरान उन्होंने कहा कि बिना छुट्टी लिए या बिना किसी सूचना के किसी भी पदाधिकारी,कर्मी को मुख्यालय छोड़ने की अनुमति नहीं है।समीक्षा के क्रम में डीएम ने मनरेगा एवं जल जीवन हरियाली के सभी बिंदुओं की क्रमवार समीक्षा करते हुए प्रखंड वार खराब प्रदर्शन को लेकर संबंधित पदाधिकारी,कर्मी को फटकार लगाते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिया।उन्होंने कहा कि किसी भी हालत में खराब प्रदर्शन बर्दास्त नही किया जाएगा।मनरेगा के सभी अवयवों की समीक्षा के दौरान जिला पदाधिकारी ने मानव दिवस सृजन में कमी को लेकर स्पष्ठ किया गया कि मनरेगा अंतर्गत कार्य मांग पर आधारित है ना कि लक्ष्य आधारित।

कार्य में मनरेगा अधिनियम का विचलन मान्य नही होगा। इस दौरान बताया गया कि प्रधानमंत्री आवास प्लस में मनरेगा के तहत दिए जाने वाले मानव दिवस ससमय प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा दिए गए क़िस्त के अनुरूप शत प्रतिशत किया जाना है।ज़िले में आधार सीडिंग की प्रगति 84 प्रतिशत के लगभग है। उन्होंने गुरुवार तक 90 प्रतिशत तक करने का निर्देश दिया। साथ ही साथ जॉब कार्ड वैरिफिकेशन को भी शत प्रतिशत करने का निर्देश दिया।आज़ादी के अमृत महोत्सव पर जिले में एक एकड़ से ऊपर के तालाबों का जीणोद्धार पूर्ण कराने का निर्देश दिया।जल जीवन हरियाली के तहत सभी जल संरचनाएं जिन पर कार्य किया गया है उसकी इंट्री व जीओ टैगिंग कराने कराने का दिर्देश दिया। बैठक में उप विकास आयुक्त,डायरेक्टर डीआरडीए शिव कुमार रावत,जिला कार्यक्रम पदाधिकारी मनरेगा बाबू यादव ,सभी प्रखंड के कार्यक्रम पदाधिकारी (मनरेगा),सभी कनीय अभियंता तथा लेखापाल मौजूद रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/ अखिला

Share this story

Around The Web